Skip to main content

600+ हिंदी शायरी लिखा हुआ ( लिखी हुई हिंदी शायरी )



Text Copied
वफा के बदले बेवफाई ना दिया करो..
मेरी उमीद ठुकरा कर इन्कार ना किया करो..

तेरी महोब्त में हम सब कुछ खो बैठे..
जान चली जायेगी इम्तिहान ना लिया करो
!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"आ कर ख़्यालों में मेरे
बाकी जहाँ बेख्याल कर जाते हो

हमें भी सिखा दो हुनर,
कैसे यह कमाल कर जाते हो "!! ❤

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"घांव इतना गहरा है बयां क्या करे
हम खुद निशाना बन गये अब वार क्या करे
जान निकल गयी मगर खुली रही आंखें
अब इससे ज्यादा उनका इंतझार क्या करे"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"जिंदगी देने वाले,
मरता छोड़ गये,
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये,
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की,
वो जो साथ चलने वाले, रास्ता मोड़ गये."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"तुझे तो गैरो की महफ़िलो मे
मुस्काना पड़ता है,
पर सोच तुझे देखकर हमे,
अपने दिल को कितना
समझाना पड़ता है..."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"ना दिल की चली ना आँखों की, हम तो दीवाने बस तेरी मुस्कान के हो गए !!"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"बिकता है गम इश्क के बाज़ार में,
लाखों दर्द छुपे होते हैं.
एक छोटे से इंकार में,
हो जाओ अगर ज़माने से दुखी,
तो स्वागत है हमारी दोस्ती के दरबार में."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"मालूम था मालूम है की कुछ भी नहीं हासिल होगा, लेकिन वो इश्क ही क्या जिसमें ख़ुद को तड़पाया ना जाये !!"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"मुर्दा लोहे को भी औजार बनाने वाले
अपने आँसू को भी हथियार बनाने वाले
हम को बेकार समझते हैं सियासतदां मगर
हम है इस मुल्क़ की सरकार बनाने वाले"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"यूँ तो सब कुछ सलामत है तेरी दुनियाँ में,
बस रिश्ते ही हैं, जो कुछ टूटे-टूटे से नज़र
आते है..!" ...✍

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"रिश्ते किसी से कुछ यूँ निभा लो,
की उसके दिल के सारे गम चुरा लो,
इतना असर छोर दो किसी पे अपना,
की हर कोई कहे हमें भी अपना बना लो."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"वक्त के पन्ने पलटकर,
फ़िर वो हसीं लम्हे जीने को दिल चाहता है,
कभी मुशाकराते थे सभी दोस्त मिलकर,
अब उन्हें साथ देखने को दिल तरस जाता है."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"वो नदिया नहीं आंसू थॆ मॆरॆ,जिनपर,
वो कश्ती चलातॆ रहे
*मंज़िल मीलॆ उन्हॆ ये चाहत थी मेरी,*
*इसलऎ हम आंसू बहातॆ रहे*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"हम जिनके दीवाने है वो गैरों के गुण गाते थे,
हमने कहा आपके बिन जी ना सकेंगे,
तो हंस के कहने लगे,
के जब हम ना थे तब भी तो जीते थे.."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

"ज़िन्दगी मे कई मुशकिले आती है,
और इन्सान ज़िन्दा रहने से घबराता है,
ना जाने कैसे हज़ारो कांटो के बीच,
रह कर भी एक फूल मुस्कुराता है."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

#Mirza_Ghalib:

Udne de in Parindo ko Aazad Fiza me #Ghalib
Jo tere Apne Honge Wo Laut Aayenge Kisi Roz



#Allama_Iqbal:

Na Rakh Ummeed-e-Wafa kisi Parindey se #Iqbal
Jab Par Nikal Aate Hain, To Apna Bhi Aashiyana Bhool Jaatey Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

#फ़िराकगोरखपुरी

सर में सौदा भी नहीं दिल में तमन्ना भी नहीं
लेकिन इस दर्द-ए-मोहब्बत का भरोसा भी नहीं

यूँ तो हंगामे उठाते नहीं दीवाना-ए-इश्क़
मगर ऐ दोस्त कुछ ऐसों का ठिकाना भी नहीं

मुद्दतें गुज़रीं तेरी याद भी आई न हमें
और हम भूल गये हों तुझे ऐसा भी नहीं

मुँह से हम अपने बुरा तो नहीं कहते के 'फ़िराक़'
है तेरा दोस्त मगर आदमी अच्छा भी नहीं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*" यही सोचते सोचते हम एक दूसरे को #खो देंगे एक दिन,💔💔💔💔*

*वो मुझे याद नहीं करता तो मैं उसे क्यों #याद करूँ!!"😏😏😏😏*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*"जहाँ प्रयत्नों की उंचाई"*
*"अधिक होती हैं"*
*"वहाँ नसीबो को भी"*
*"झुकना पड़ता हैं"*
*"मेरे दोस्त"*
*परिवर्तन से डरना*
*और संघर्ष से कतराना,*
*मनुष्य की सबसे बड़ी*
*कायरता है !*
*जीवन का सबसे बड़ा गुरु*
*वक्त होता है,*
*क्योंकि जो वक्त सिखाता है*
*वो कोई नहीं सिखा सकता*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*"जिन्हे आना है वो खुद लौट आयेंगे तेरे पास ए दोस्त,*

*बुलाने पर तो परिंदे भी गुरुर करते है अपनी उड़ान पर !!"..*
*❣💧A💧❣*👈☔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*"शिकवे मुझे भी जिंदगी से है*

*साहब*

*पर मौज में जीना है*

*इसलिए शिकायते नहीं करता"*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*Najeeb Teri akal mandi par baat likhu to koi kalam Na hojay*
*Teri taraqi se dar tha inko KE ye Gulam Na hojay*
*Tu anmol hira tha is liye churaya tujko ye soch Kar*
*Kahi Bharat me ek aur abdul kalam Na hojay*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*Uska mere dil me ghar banane ka ek kaaran ye bhi tha....*🙇🏻


Ki use dard dene ki aadat thi aur mujhe
dard likhne ka shauq...💔____✍🏼

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_"ठोकरें ख़ाता हूँ पर,_*
*_"शान" से चलता हूँ।_*
*_मैं खुले आसमान के नीचे,_*
*_सीना तान के चलता हूँ।_*

*_मुश्किलें तो "साज़" हैं ज़िंदगी का,_*
*_"आने दो-आने दो"।_*
*_उठूंगा, गिरूंगा फिर उठूंगा_*
*_और_*
*आखिर में "जीतूंगा मैं ही"*
*_ये ठान के चलता हूँ!"_*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_Kuch is terha guzarti abhumaari har shaam haiEk haath tasveer unki to aikhaath jaam hai!_*

*_Bekaar hai yaad dilana kshaye ye haraam haiSab kuch bhool jaate hain ,ab koi leta unka naam hai!_*

*_Hum to yehi kahenge, Maibe-wajah badnaam haiDard-e-dil se humko to pahunchaati ye araam hai!_*

*_Tabaah kerti haisharaabghalat is per ilzaam haiMadadgaar ka badnaam hona to, qudrat ka nizaam hai!_*

*_Hum ghamkhaaron ka maiko, Tah-e-dil se salaam haiBina iske to khudaa jaane kya humara anjaam hai!_*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_तारीफ़ करने वाले बेशक आपको_*

*_पहचानते होंगे_*

*_मगर फ़िक्र करने वालो को आपको_*

*_ही पहचानना होगा....._*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_दिल में बसे हो जरा ख्याल रखना_*
*_अगर वक़्त मिलजाए तो याद करना_*
*_हमें तो आदत है तुम्हें याद करने की_*
*_तुम्हें बुरा लगे तो माफ़ करना_*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_नाज है हमें अपने प्यार पर..._*
*_ना वो बेवफा और ना मै बेवफा.._*
💘💘💘💘
*_बस माँ बाप के फर्ज ने_*
*_हमें जुदा कर दिया.._*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_मैं तेरे नसीब की बारिश नहीं जो तुझ पर बरस जाऊँ ……_* 💘💘💘💘
*_तुझे तकदीर बदलनी होगी मुझे पाने के लिए….._*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_शक का कोई इलाज नहीं होता_*
*_जो यकीन करता है वो कभी नाराज नहीं होता वो पूछते है_*
💘💘💘💘

*_हमसे कितना प्यार करते हो उन्हें कया पता मोहब्बत का हिसाब नहीं होता_*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_❤तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है तेरे बिना दिल को चेन किसको आता ह_*ै
💕💕

💕💕
*_तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र आता है_*💚

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*_💚क्यो किसी से इतना प्यार हो जाता है एक पल का इंतज़ार भी दुश्वार हो जाता ह_*ै
💕💕

💕💕
*_लगने लगते है अपने भी प्यारे और एक अजनबी पर ऐतबार हो जाता ह_*ै…❤

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*अब रिहा कर दो अपने "ख्यालो" से मुझे ........!!!*

*लोग सवाल करने लगे हैं*
*कि कहाँ रहते हो आज कल..!!!!*

💖☝🏻🍁

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*अभी लिखी है ग़ज़ल तो अभी दीजिये " दाद " ....*
*वो कैसी तारीफ जो मिले मौत के " बाद " .....*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*अमीरों के चेहरे पे कभी,*
*मुस्कान नहीं होती ...*

*गरीब के चेहरे पे कभी,*
*थकान नहीं होती ...*

*सब कुछ खरीद सकती है,*
*दौलत इस दुनिया में ...*

*पर शुक्र है मुस्कुराहट,*
*किसी की गुलाम नहीं होती ...*😊

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*आये हो तो कुछ देर तो ठहर जाओ इन आँखों में,*

*तुम्हे क्या पता एक उम्र लग जाती है एक ख्वाब सजाने में।।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*इस फरेबी दुनिया में*
*मुझे दुनियादारी नही आती*

*झूठ को सच साबित करने की*
*मुझे कलाकारी नही आती*

*सुर्खियों में बने रहने की*
*मुझे चाटुकारी नही आती*

*जिसमें सिर्फ मेरा हित हो*
*मुझे वो समझदारी नही आती*

*शायद मैं इसीलिए पीछे हूं*
*मुझे होशियारी नही आती*

*बेशक लोग ना समझे मेरी वफादारी*
*मगर 'यारो मुझे गद्दारी नही आती*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*उनकी 'परवाह' मत करो,*
*जिनका 'विश्वास'*
*"वक्त" के साथ बदल जाये..*
*'परवाह'*
*सदा 'उनकी' करो;*
*जिनका 'विश्वास' आप पर*
*"तब भी" रहे'*
*जब आप का "वक्त बदल" जाये.*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*एक दिन हमारे आँसू हमसे पूछ बैठे;*
*हमें रोज़-रोज़ क्यों बुलाते हो;*
*हमने कहा हम याद तो उन्हें करते हैं;*
*तुम क्यों चले आते हो...!!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*कितना भी समेट लो..*
*हाथों से फिसलता ज़रूर है..*

*ये वक्त है साहब..*
*बदलता ज़रूर है..*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*कुछ उलझे हुये ख़्यालोँ मेँ, ये तार दिल के हैँ,महफ़िल...*
💕💕
💕💕
*कोई तरन्नुम से कह दो,मुझसे ग़ुज़रे,के गज़ल हो जाये..!!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*कुछ नही मिलता*
*दुनिया में मेहनत के बगैर*,

*मेरा अपना साया*
*मुझे धुप में आने के बाद मिला*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*कोई नहीं याद करता वफ़ा करने वालो को मेरी मानों बेवफा हो जाओ जमाना याद रखेगा*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*कौन कहता कि….*
: *बचपन वापस नहीं आता…….*

*दो घड़ी*
*माँ के पास तो बैठ कर देखो…,*

ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*क्या फर्क है ?*
*... दोस्ती और मोहब्बत मे !*
*....रहते तो दोनो दिल मे हि है !*

*लेकिन,,....फर्क बस इतना है...*
*बरसो बाद ....मिलने पर....*

*मोहब्बत नजर चुरा लेती है...*
*और दोस्त सीने से लगा लेते है...*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*खुद से जीतने की जिद है,*
*मुझे खुद को ही हराना है,*

*मै भीड़ नहीं हूँ दुनिया की,*
*मेरे अन्दर एक ज़माना है..........!!🌹*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*खुशियाँ कम और अरमान बहुत हैं ।*
*जिसे भी देखो परेशान बहुत है ।।*

*करीब से देखा तो निकला रेत का घर ।*
*मगर दूर से इसकी शान बहुत है ।।*

*कहते हैं सच का कोई मुकाबला नहीं ।*
*मगर आज झूठ की पहचान बहुत है ।।*

*मुश्किल से मिलता है शहर में आदमी ।*
*यूं तो कहने को इन्सान बहुत हैं ।।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*गलियों से गुजरने का ना इल्ज़ाम दो हमको*
💕💕
💕💕
*दीवानगी खींच लाती है , दिल के हाथों मजबूर हैं हम..*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*ज़रा सी उदासी हो*
*...और वो कायनात पलट दे,*
*ऐसा भी*
*इक दोस्त तो होना चाहिए.!!*
🌹🌹🌹🌹🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*जिसे निभा न सकूँ, ऐसा वादा नही करता*

*मैं बातें अपनी औकात से, ज्यादा नहीं करता..!*

*भले ही तमन्ना रखता हूं, आसमान छू लेने की*

*लेकिन, औरों को गिराने का, इरादा नहीं करता..*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*जो दूसरों को इज़्ज़त देता है*
*असल में वो खुद इज़्ज़तदार होता है...*

*क्योकि*

*इंसान दूसरो को वही दे पाता है*
*जो उसके पास होता है..!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*जो सफर की*
*शुरुआत करते हैं,*
*वे मंजिल भी पा लेते हैं.*

*बस,* *एक बार चलने का*
*हौसला रखना जरुरी है.*

*क्योंकि,* *अच्छे इंसानों का तो*
*रास्ते भी इन्तजार करते हैं..*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*तुम्हारी नजरो में हमने देखा अजब सी चाहत झलक रही है.*

*हमारी साँसों को छू के देखो तुमारी खुशबु महक रही है.*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*तेरे चेहरे को कभी भुला नहीं सकता,*
💕💕💕💕
*तेरी यादों को भी दबा नहीं*
*सकता,*
💕💕💕💕
*आखिर में मेरी जान चली जायेगी,*
💕💕💕💕
*मगर दिल में किसी और को बसा नहीं सकता.*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*तेरे बाद खुद को इतना तनहा पाया*



*जैसे लोग हमें दफना के चले गए हो!*😫😔😭☝🏻

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*दिल की धड़कन रुक सी गई सांसें मेरी थम सी गई*

*पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*दिल ने फिर तेरे दिल पर दस्तक दी है*

*तन्हाई ने फिर एक कसक दी है*

*चाहूँ तेरी बाहों में सिमट जाना*

*ख़्वाबों ने तेरी फिर कसक दी है ।*🌺

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*दिल भी वही है धड़कन भी वही हैं...!!☝🏻*
*बस सुनने वाले की नीयत बदल गई है...!!💘*💞💕🍃🥀💐💐🥀

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*देखकर पलकें मेरी .....कहने लगा कोई फक़ीर.....*


*इन पे बरख़ुरदार .....सपनो का वज़न कुछ कम करो.....*

💔💔💔💔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*नजर मिली तो फसाने हुए*

*एक पल मेँ हम आपके दीवाने हुए*
💕💕💕
*जब से आये हो आप हमारी मेँ ज़िन्दगी में*
💕💕💕
*अंदाज़ ही हमारे कुछ शायराना हुए*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*प्यार का रिश्ता इतना मजबूत होना चाहिए...*

*की कभी तीसरे की वजह से ये रिश्ता ना टूटे...🍃🍃*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*बातें करके रुला ना दीजियेगा,*
यूं चुप रहके सज़ा ना दीजियेगा,
*ना दे सके खुशी तो ग़म ही सही*,
पर दोस्त बना के यूं भुला ना दीजियेगा

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*महक अपने रिश्ते की फूलों से भी गहरी है*

*इसीलिए तो अपनी दोस्ती साँसों पे ठहरी है*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*मुख़्तसर सा गुरूर भी ज़रूरी है*
*जीने के लिए ..*

*ज्यादा झुक के मिलो तो दुनिया*
*पीठ को पायदान बना लेती है ...*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*मोहब्बत का कोई कुसूर नहीं ....उसे तो मुझसे रूठना ही था......​*

*​दिल मेरा शीशे सा साफ़....*
*और शीशे का अंजाम तो टूटना ही था....*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*मोहब्बत जिन्दगी के फैसलों से लड़ नही सकती*
*किसीको खोना पड़ता है किसी का होना पड़ता है।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*यूँ मेरा बेवजह मुस्कुराना भी तेरे इश्क़ की ही बदौलत है*
*लोग यूँ ही कहते हैं कि मेरी हँसी खुदा की दी दौलत है।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*लोग समझते है हम बस तुम्हारे हुस्न पर मरते है।*

*अगर तुम भी यही समझते हो तो सुनो जब हुस्न ढल जाये तो लौट आना।।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*वक़्त की छान बीन से निकले*
*ज़ख्म ताज़ा तरीन से निकले*....

*कितने चेहरे हुए हैं बे परदा*
*सांप जब आस्तीन से निकले*...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*वो रिश्ते बड़े प्यारे होते हैं*,
*जिनमें न हक़ हो, न शक हो*.
*न अपना हो, न पराया हो,*
*न दूर हो, न पास हो..*
*न जात हो, न जज़बात हो*,
*सिर्फ अपनेपन का*
*एहसास ही एहसास हो*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*शायर तो हम है शायरी बना देंगे*

*आपको शायरी मे क़ैद कर लेंगे*

*कभी सूनाओ हमे अपनी आवाज़*

*आपकी आवाज़ को हम ग़ज़ल बना देंगे*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*शायरो की महफ़िल में बात चली एक दीवाने की..*
*दिन रात जलने वाले एक परवाने की..*

*मैंने सोचा कौन होगा ये सिरफिरा..*
*देखा तो ऊँगली मेरी तरफ थी सारे ज़माने की.....

यूँ तो तमन्नाएं दिल में ना थी हमें लेकिन,

ना जाने तुझे देखकर क्यों आशिक़ बन बैठे,

बंदगी तो खुदा की भी करते थे लेकिन,

ना जाने क्यों हम काफ़िर बन बैठे. _______________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*सारे मंजर बदल गए होंगे ..आप हद से निकल गए होंगे ....!!*
💕💕
💕💕
*आग इतनी कहाँ थी फूलों में हाथ शबनम से जल गए होंगे .*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*हमने वफ़ा की थी इस लिए* 💘💘💘💘
*नजरो से गिर गए ।..*...
*सायद उन्हें तलास किशी*
*बेवफा की थी ........*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*हर रात रो-रो के उसे भुलाने लगे, आंसुओं में उस के प्यार को बहाने लगे,*



*ये दिल भी कितना अजीब है कि,*
*रोये हम तो वो और भी याद आने लगे* ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*हज़ारों दर्द सहकर भी मोहब्बत छोड़ ना पाया*

*अकेला दिल नही मेरा*

*ये हर दिल की कहानी है..*👫

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*​कुछ लिख नही पाते, कुछ सुना नही पाते,​​हाल-ए-दिल जुबान पर ला नही पाते,*



*​वो उतर गए है दिल की गहराइयों मे,​वो समझ नही पाते और हम समझा नहीं पाते*!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*✍🏾काश तेरा प्यार भी "ए दिल"*
*निकाह जैसा होता......,,*
.
*तीन बार प्यार_प्यार_प्यार*
*कहकर तेरे रुबरु हो जाते...!!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❣वो पल में बीते साल लिखूं*
*या सदियों लम्बी रात लिखूं..❣*
*❣मैं तुमको अपने पास लिखूं*
*या दूरी का एहसास लिखूं..*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤...अच्छी है याद तेरी*
*अच्छा है नाम तेरा ....❤*

*❤. ओ दुर के रहने वाले*
*कैसा है हाल तेरा ...❤*
🌹❤🌹
*❤...दिल में तेरी याद*
*होठों पे सिर्फ नाम तेरा ..❤*

*❤..मेरे दिल मै बसने वाले*
*तुझको है सलाम मेरा ....❤*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤ऐ हवा उससे ये कहना कि सलामत है अभी,*
💕💕

💕💕
*तेरे फूलों को किताबों में छुपाने वाला !!*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤कोशिश तो रोज़ करते हैं के वक़्त से समझौता कर लें,*
💕💕

💕💕
*कम्बख़्त दिल के कोने में छुपी उम्मीद मानती ही नहीं...*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤तेरी याद ने मेरा बुरा हाल कर दिया.. तन्हा मेरा जीना मुहाल कर दिया..*
💕💕

💕💕
*सोचा जो अब तुम्हे याद न करुँ. तो दिल ने धडकने से इन्कार कर दिया..*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤मुझको करनी है एक मुलाकात तुमसे ऐसे जहाँ में...!!*
💕💕

💕💕
*जहाँ मिलकर फिऱ बिछड़ने का कोई बन्दिश ए रिवाज ना हो....!!*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤मुझसे मोहब्बत पर मशवरा मांगते हैं लोग*
💕💕

💕💕
*तेरा इश्क कुछ इस तरह तजुर्बे दे गया मुझे*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤वो कहती हैं तुम छोड क्यों नही जाते इतनी तकलीफ देती हुं तो...*
💕💕

💕💕
*मैंने कहा साँस लेने में उलझन आए तो क्या जीना हीं छोड दूँ.....💙*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤हर महफ़िल में लोग मुझसे एक ही सवाल किया करते है...*

*कौन है वो इतनी खुश नसीब.. जो तुम्हारी हर शायरी में उसका ही जिक्र होता है...*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*❤होठो की बात ये आँसू कहते है. चुप रहते है फिर भी बहते है.*
💕💕

💕💕
*इन आँसुओ की किस्मत तो देखिए ये उनके लिए बहते है जो दिल मे रहते है*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*🌹बोल नहीं रहा इसका मतलब ये नहीं की भूल गया हूँ मैं ...*

*मुझे ये देखना है की तुझे मेरी याद कितनी आती है...*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*🌹वो कहती हैं तुम छोड क्यों नही जाते इतनी तकलीफ देती हुं तो....*

*मैंने कहा साँस लेने में उलझन आए तो क्या जीना हीं छोड दूँ.....*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*🌹💘🌹डूबे हुओं को हमने बिठाया था अपनी कश्ती में यारो..... और फिर कश्ती का बोझ कहकर हमे ही उतारा गया...!🌹💘🌹*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*🌹💘🌹प्यार को कोई पैसे से नहीं खरीद सकता है पर इसके लिये बहुत ही भारी कीमत चुकानी पड़ती है !!🌹💘🌹*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*👉👉इतना तो😍😍 किसी ने चाहा*
*😏😏 भी न होगा😘😘 जितना मैंने*
*सिर्फ 👰👰सोचा है तुम्हें 👈👈 👉😍⛎😍*
➖➖➖➖➖➖➖➖➖

*कोशिश तो की बहुत मगर दिल तक नहीं पहुँचे*
*वो शहर के थे हाथ मिलाकर चले गए।*
*मोहब्बत कोई नुमाइस नहीं जो दुनिया देखे*

➖➖➖➖➖➖➖➖➖
*इसे संभाल के रखा जाता है शीशे की तरह......*
*उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी, जहाँ सारा शहर अपना था*
*और तुम अजनबी…*😍😍

*कुछ नशा तेरी बात का है,कुछ नशा धीमी बरसात का है,*
*हमे तुम यूँही पागल मत समझो,ये दिल पर असर पहली मुलाकात का है!!*
➖➖➖➖➖➖➖➖➖

*जिसने पल पल ,मुझको सताया है ।*
*कैसे कह दूँ , कि वो पराया है ।*
*तेरे बाद किसी को प्यार से ना देखा हमने,*
*पगली हमें इश्क का शौक है आवारगी का नही…!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💕क्यूँ सताते हो मुझे यूँ दुरियाँ बढ़ाकर,*💕


*क्या तुम्हे मालूम नहीं अधूरी हो जाती है तुझ बिन जिन्दगी...💕*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💕मेरे दिल से भी ज्यादा*
*मतलबी और कौन होगा...*

*💕जो बिना मतलब के भी*
*बस तुजसे ही प्यार करता है....!!_____»

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💕💕खवाहिश नही मुझे मशहुर* *होने की।आप मुझे पहचानते हो बस* *इतना ही काफी है।अच्छे ने अच्छा* *और बुरे ने बुरा जाना मुझे।क्यों की* *जीसकी जीतनी जरुरत थी उसने* *उतना ही पहचाना मुझे।ज़िन्दगी का* *फ़लसफ़ा भी कितना अजीब है,शामें* *कटती नहीं, और साल गुज़रते चले जा* *रहे हैं....!!एक अजीब सी दौड़ है ये* *ज़िन्दगी,जीत जाओ तो कई अपने* *पीछे छूट जाते हैं,और हार जाओ तो* *अपने ही पीछे छोड़ जाते

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💕💕हैं जिनके पास अपने ,*
*वो अपनों से झगड़ते हैं ...*
🔹
*नहीं जिनका कोई अपना ,*
*वो अपनों को तरसते हैं ...।💕💕*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💖रिश्ते दिल से बनते है बातों से नही,*

*कुछ लोग बहुत सी बातो के बाद भी अपने नही होते*
*और*
*कुछ शांत रहकर भी अपने बन जाते है ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

*💞मुझे तेरे प्यार में ऐसी ज़बरदस्ती चाहिए___*💕



💞 *जो मैं छोडूँ हाथ तेरा तो तू बाँहो को थाम ले_____*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

,*💎सारा जहां उसीका है*
*जो मुस्कुराना जानता है*
*रोशनी भी उसी की है जो शमा जलाना जानता है*
*हर जगह मंदिर मस्जिद गुरूद्वारे है।*
*लेकीन इश्वर तो उसीका है जो*
*"सर" झुकाना जानता है..💎*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

,बीते पल वापस ला नहीं सकते,
सूखे फूल वापस खिला नहीं सकते,
कभी कभी लगता है आप हमें भूल गए,
पर दिल कहता है कि आप हमें भुला नही सकते.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

-------------------------------

दर्द कागज़ पर मेरा बिकता रहा
मैं बैचैन था रातभर लिखता रहा !!

छू रहे थे सब बुलंदियाँ आसमान की
मैं सितारों के बीच, चाँद की तरह छिपता रहा !!

दरख़्त होता तो, कब का टूट गया होता
मैं था नाज़ुक डाली, जो सबके आगे झुकता रहा !!

बदले यहाँ लोगों ने, रंग अपने-अपने ढंग से
रंग मेरा भी निखरा पर, मैं मेहँदी की तरह पीसता रहा !!

जिनको जल्दी थी, वो बढ़ चले मंज़िल की ओर
मैं समन्दर से राज गहराई के सीखता रहा !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

.
जो भी होता है न होता तो कहाँ से होता,
देखता वो भी वही है मगर इस तरह नहीं...
.
न कोई ग़म न कोई ख्व़ाब न हसरत न जुनूं
हमने भी ज़िन्दगी जी है मगर इस तरह नहीं...
.
काश होता न मलाल और न कोई अफ़सोस,
सबको हर चीज़ मिली है मगर इस तरह नहीं...
:)

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aag Dil me Lagi Jab Wo Khafa Hue..
Mehsoos Tab Hua Jab Wo Juda Hue..
Kar Ke Wafa Kuch De Na Sake Wo..
Par
Bahut Kuch De Gaye Jab Wo Bewafa
Hue..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aag Dilme Lagi Jab Wo Khafa Hue..
Mehsoos Tab Hua Jab Wo Juda Hue..
Kar Ke Wafa Kuch De Na Sake Wo..
Par
Bahut Kuch De Gaye Jab Wo Bewafa Hue..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aakhri baar tere pyaar ko sajda kar lu
Lout ke phir teri mehfil me nhi aaunga
Apni barbaad mohabbat ka janaza lekar
Teri duniya se bahut dur chala jaunga.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aap Kya Jaano Kya Hota Hai Dard Judai Ka,
Humse Yeh Puchho Kaisa Haal Hota Hai Tanhai Ka,

Mout Ko Laga Lete Hain Majboor Hokar Gale Yaaro,
Aisa Hota Hai Jab Bhi Hota Hai Hashar Rushwai Ka…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aap naraz hon , roothhen , ki khafa ho ja'aen.

Baat itani bhi na bigdey , ki zuda ho ja'aen.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aapki Dosti Pe Naaz Hai Hame
Kal Tha Jitna Bharosa Utna Aaj Hai Hame!
Dost Wo Nahi Jo Khushi Me Sath De
Dost Wahi Jo Har Pal Apnepan Ka Ehsas De!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aapki Yahi Adayein Toh Hain Eh Mere Humdam,
Jo Humko Aap Par Marne Ko Majboor Karti Hain,

Magar Yeh Bhi Suna Hai Ke Hote Hain Sabhi Hasin Bewafa,
Aap Bhi Hasin Hain Yehi Baatein Aap Se Door Karti Hain…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aarju ye nhi ki gam ka toofan tal jaye, Fikar to ye hai aapka dil na badal jaye, Kbhi mujhko agar bhulana chaho to, Dard itna dena ki mera dam nikal jaye.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Abhi Masroof Hoon, Kabhi Fursat me Sochunga

Ke Tujhko Yaad Rakhne Mein, Main Kya Kya Bhool Jata Hoon

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Abhi sooraj nahin dooba, zara see shaam hone do,
Main khud hi lot jaaonga, mujhe NAKAAM hone do.

Mujhe bad-naam kerne k, bahaane dhoondte ho kyun?
Main khud ho jaaonga bad-naam, pehle naam hone do.

Abhi mujh ko nahin kerna hai, Aetraaf-e SHIKAST,
Main sab tasleem ker loonga, ye charcha aam hone do.......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Aisa Nahi Ke Ham Ko Mohabbat Nahi Mili,
Tumhain Chahtay Thay...Per Teri Ulfat Nahi Mili,
Milnay Ko Zindagi Mein Tou Kayi Hamsafar Milay, Per Un Ki Tabiyat Se Tabiyat Nahi Mili,
Chehron Mein Dosron Ke Tujhe Dhoondtay Rahay,
Soorat Nahi Mili to Kaheen Seerat Nahi Mili,
Bohat Dair Se Aaya TU Mere Paas,
Alfaaz Dhoondnay Ki Bhi Mohlat Nahi Mili,
Tujh Ko Gila Hai Ke Tawajja Na Di Tujhe, Laikin Ham Ko Tou Khud Apni Mohabbat Nahi Mili,
Ham Ko Tou Teri Har Aadat Achi Lagi “ Afsos Ke Tujh Se Meri Aadat Nahi Mili.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ajab ye doglapan hai humara ghum nahi dikhta.........!😞😞
Lahoo se tar ba tar daaman humara num nahi dikhta..!!😢😢

Uneh hum goliyaan barsaate dikh jaate hain sadkon par...!!😠😠
Zamane ko magar hum par barasta bum nahi dikhta......!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ajeeb Shikwa Sa Rehta Hai Tumhe Mujhse Mujhe, Tum Se

Tumhe Ulfat Nahi Mujhse Mujhe Nafrat Nahi Tum Se

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Apna Pan Bhi Iss Beganey Pan Main Hai
Pura Aalam Eik Dewaney Pan Main Hai
Yeh Ju Tum Se Main Anjan Bana Pirta Hoon
Sari Baat Issi Anjaney Pan Main Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Apni Baaton Mein Merey Naam K Hawaley Rakhna

Mujh Se door Ho Tu Khud Ko Sambhaly Rakhna
'
Log Pochein Gay Kiyon Preshan Ho Tum

Kuch Nigahon Se Kehna, Zubaan Pe Taaly Rakhna
'
Na Khoney Deyna Merey Beetay Lamhon Ko

Meri Yaadon Ko Baray Payar Se Sambhaley Rakhna
'
Tum Loat Aao Ge Itna Yaqeen Hai Mujh Ko

Merey Liye kuch waqt Nikaley Rakhna
'
Dil ny bari shidat sy DOST Banaya hy tumhy

Merey Liye Apny Andaaz wohi Puraany Rakhna..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Apno Ne Hamein Yeh Shikhaya Hai,
Ki Bewafayi Kya Hoti Hai,

Door Unse Huye Toh Jana,
Ki Judai Kya Hoti Hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Auron Se Bhi Hai Mujhe Rabta Thora Sa Magar,

Tujhse Hain Jo Silsilay Intiha K Hain...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Awaj K Piche Ki Jo Khamoshi Jan Sake
Mere Sukhi Hui Jindgi M Jo Rang Dal Sake
Meri Dikhai Hui Jindagi Dekh K To Sabhi Haste H
Dhund Raha Hu Koi Isa Shaqks Jo Mere Dard Ko B Pehchan Sake

हिंदी शायरी लिखा हुआ

BOhat MasrOOf hO Shayad jO Hume BhOOl
Baithe hO...
Na Ye POOcha Ki Kahan Pe hO...? Na Ye Jana Ki
Kaise hO...?

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Badi Muskil Se Wo Apne Dil Ko Is Baat K Liye Samjhayi Payi Hogi..

Maa Baap Ki Izzat Ki Khatir Jab Usne Shadi Kisi Aur Se Rachayi Hogi...


Kaun Sa Patthar Rakh Kar Usne Apne Dil Ka Matam Manaya Hoga...

Wo Aansu Nahi Khoon Ka Katra Hoga Jisko Usne Meri Yaad Me Bahaya Hoga...


Zamane Ke Rasm Wa Riwaz Ko Odne Se Pahle....

Usne Apni Rooh Ko Mohabbat Ka Kafan Pahnaya Hoga...


Haqiqat Me Marne Se Pahle Kaise Mara Jata Hai...

Aaj Usne Meri Nigah Me Jeete Hue Bhi Mar Kar Dikya Hoga...


Bachpan Se Jo Usne Khowab Dekha Tha Lal Jode Ko Shadi Me Pahenne Ka...

Un Aanuso Me Wo Saphed Kafan Sa Nazar Aaya Hoga...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Bazm-e-Wafa Me Apni Gareebi Na Poochhiye.

Ik Dard-e-Dil Hai, Wo Bhi Kisi Ka Diya Hua

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Bewafa Nahi Hai Woh Yeh Manta Hun Main,
Woh Bhi Chahte Hain Hamein Yeh Jaanta Hun Main,

Magar Itna Bhi Toh Yaaron Nadan Nahi Hun Main,
Unki Badli Huyi Najrein Toh Pahchanta Hun Main…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Bewafa hai duniya kisi ka aitbaar na karo,
Har pal dete hai dhoka kisi se pyar na karo,
Mit jao beshaq tanha jee kar,
Par kisi ke sath ka intezaar na karo.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Bhool jana or bhula dena faqat ek weham hai, Dilon se kab nikalte hain woh log mohabbat jinse ho jaye.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Chehre ki Khushi dekhte ho bas ,,,
Kaash..
kabhi aaina ban kar Dil ka Dard dekha hota !!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Deedar-E-Yaar Aj Tak Mayassar Nahi Raha.................................
Muddat Hui Humara Koi Basar Nahi Raha................................
Mara Hai Muflisi Ne Jo Khanjar Hayaat Pe......................................
Aye Ishq Tere Tann Pe Koi Sar Nahi Raha...................

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dekha Hai Zindagi Ko Kuch Itne Qareeb Se
Chehre Tamaam Lagne Lage Hain Ajeeb Se
Aye Rooh_E_Assar Jaag, Kahan So Rahi Hai Tou
Aawaz De Rahe Hain Peyamber Saleeb Se
Is Reengti Hayaat Ka Kab Tak Uthaen Baar
Beemar Ab Ulajhne Lage Hain Tabeeb Se
Har Gaam Par Majma_E_Ushaaq Muntazir
Maqtal Ki Raah Milti Hai Koo_E_Habeeb Se
Is Tarha Zindagi Ne Diya Hai Hamara Saath
Jaise Koi Nibah Raha Hai Raqeeb Se

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dekha h humne ye azmaakr,
dhoka de jate h log aksar kareeb aakar,
kehti h ye duniya par dil nahi maanta,
kya tum b bhuul jaoge mujhe apna banakr?

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dil jeet le wo jigar hum b rakhte hai,
katal karde wo nazar hum b rakhte h,

wada kiya hai kisi ko hamesha muskurane ka, warna akhoo me samander hum bhi rakhte h

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dost Bahut Hain Lekein,
Har Dost Dil Ke Kareeb Hote Nahi,

Jo Sachha Dost Hai,
Woh Kabhi Gham Deta Nahi,

Dil Kehta Hai Ek Din,
Khushi Tere Kadam Chumegi,

Bharosa Rakhna Kismat Par,
Kyun Ki Kismat Bewafa Hote Nahi…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dosti K Naam Pay Deewaanay Chalay Aatay Hain
Shama K Peechay Perwaanay Chalay Aatay Hain
Tu Meri Zindagi Main Nahin Aana Chahata Na Aa
Par Aana Meri Moat Pay Us Din To Begaanay Bhi Chalay Aatay Hai..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Dosti imtiehan nahi vishwas mangti hai,
nazar aur kuch nahi dost ka deedar mangti hai,
Zindagi apne liye kuch bhi nahi hai,
par dosto ke liye ye dua hazar mangti hai.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ek gazal to yaro ka adab...

Kabhi nazro k teer se, Kabhi husn me fasakar,
Ye ishq karta hai har waar chupakar,

Kisi shaksh ko aise uljhata hai jaal me,
K wo ro bhi nahi sakta hai kisi ko sunakar...

Meetha sa lagta hai sabko agaaz ishq ka....
Sab asmaa me rahte hai ishqq ki had me aakar....

Kuch wakt toh har koi kwaabo me jeeta hai....
Fir nind bhi cheen leta hai ishq sapne dikhakar....

Isse dur he raho toh achcha hai janaab....
Khud se Dur kar deta hai ye kisi ko paas bulakar...

Kabhi hum bhi khiladi rahe hai iss khail k yaro...
Koi bahut roya hai kabhi yakenan humko sata kar....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ek muskan tu muhje ek

baar de de

khwab mein hi sahi ek

deedar de de.

Bas ek baar kar le tu

aane ka wada

phir Umar Bhar ka chahe

intezar de de....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Faqeer mijaaj hu mein,
Apna andaaz auro se judaa rakhta hu,
Log Jaate hai mandir or masjid me,
Mein apne dil me khuda rakhta hu.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Gam Na Karna Kabhi Zindgi Me
Kyuki Taqdeer Badalti Rehti Hai
Shesha Wahi Rehta Hai
Bas Tasveer Badalti Rehti Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Guzri Hoi Zindagi Ko Kabhi Yaad Na Ker
Taqdeer Mai Jo Likha Hai Uski Fariyaad Na Ker
Jo Hona Hai Wo Ho Ker Rahega
Tuu Fikar Mai Apni Hansi Barbaad Na Ker

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Has Kar Jeena Dastoor Hai Zindagi Ka
Ek Yehi Kissa Mashhoor Hai Zindagi Ka
Beete Huye Pal Kabhi Laut K Nahi Aate
Yehi Sabse Bada Kasoor Hai Zindagi Ka

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Haskar Bhi Dekh Liya Rokar Bhi Dekh Liya,
Kisi Ko Pake Khokar Bhi Dekh Liya,
Pyar Bhi Kiya Aur Ye Jaan Bhi Liya,
Zindagi Wahi Jee Sakta Hai
Jisne Akele Jeena Sikh Liya.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Hasna Zindagi Hai,
Has Kar Gum Bholana Zindagi Hai,
Jeet Kar Hanse To Kya Hanse,
Haar Kar Khushiyan Manaana Zindagi Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Hasne walo ko rulaya nhi jata,
Lehro ko pani se hataya nhi jata,
Hone wale to khud hi apne ho jate h,
Kisi ko keh kar apna bnaya nhi jata

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Hm yad rahe to thik h
wrna bhula Dena


HoGyi khta hmse koi
to saza Dena


Waise to hm h khali kagaz ki tarah,


likha jaye to thik h
wrna jala Dena

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Hum woh siyaah naseeb hain Tariq ke shehar main................ ....
Kholein dukaan kafan ki to log marna chhor dein......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Humain Maloom Tha Anjaam Ishq Ka Lekin,
Jawani Josh Par Thi, Zindagi Barbaad Kar Bethay

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Humari Yaadon ka silsila banaye rakhna,
Dost kaha h to dosti bhi banaye rakhna,
Jaan to nahi mangi h humne aap se,
Bus jaan jane tak dosti banaye rakhna...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Humari Yaadon ka silsila banaye rakhna,
Dost kaha h to dosti bhi banaye rakhna,
Jaan to nahi mangi h humne aap se,
Bus jaan jane tak dosti banaye rakhna...

Meri Aankhon ke Samandar mein Jalan kaisi hai

Aaj phir dil ko Tarapne ki Lagan kaisi hai

Ab Is raah pe Chiraghon ki Qatarein bhi nahi

Ab tere Shehar ki Galiyon mein Ghutan kaisi hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Husn ko benaqab dekha hai
Aarzuo ka khwab dekha hai
Pehlu e gyr main, ary toba
Kis qayam ka khwab dekha hai.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Huyi Toh Hai Yeh Khata Humse Bahut badi Sanam,
Na Chahte Huye Bhi Hum Aapse Pyar Kar Baithe,
Roka Tha Humein Sab Ne Ki Na Kar Tu khata
Na Jaane Fir Bhi Kyu Tera Aitbaar Kar Baithe….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ishq fana ka naam hai ishq mein zindagi na dekh
jalva-e-aftab ban zarre mein roshani na dekh
shauq ko rahnuma bana jo ho chuka kabhi na dekh
aag dabi hui nikal aag bujhi hui na dekh
tujh ko khuda ka vasta tu meri zindagi na dekh
jis ke sahar bhi sham ho us ke siyah shavi na dekh

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ismein Aapki Khata Bhi Kya Bataun Main,
Hamare Naseeb Mein Hi Aapka Saath Nahi Hai,

Varna hamare pyar Ko Yun Thukraate,
Aisi Toh Yahan Par Koi Bhi Baat Nahi Hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Jindgi ne kai sawaal badal diye,
waqt ne mere halaat badal diye,
itne bure nhi the ham yaron,
na jane kyon logon ne apne khyalaat badal diye

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Jis din band kar li humne ankhein, Kai ankhon se us din aansu barsenge, Jo kehte hain ke bahut tang karte hai hum, Wahi hamari ek shararat ko tarsenge.💘💘💘💘💘💘💘💘💘

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Jo Jakham De Gaye Aap hum Ko,
Na Jaane Kyun Woh Jakham Nahi Bharta,
Hum Toh Milna Chahte Hain Aapse Magar,
Kya Karein Hamara Naseeba Nahi Milta….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kabhi Toh Mere Paas Kisi Bahaane Se Aaja...
Na Kuchh Aur Sahi Mujhe Tadpaane Aaja...

Hun Toh Badkismati Se Abhi Tak Zinda ...
Magar Tu Meri Maiyat Ke Bahaane Aaja...

Waqt Guzar Gaya Hai Zakhm Bhar Raha Hai....
Tu Is Zakham Ko Phir Se Taza Karne Ke Irade Se Aaja...

Main Ab Thoda Bahut Jeena Sikh Chuka Hun...
Tu Apne Raqeeb Ke Sang Mujh ko Jalane Aaja..

Agar Pyar Baaki Ab Bhi Hai Mere Liye...
Toh Rutha Samajh Kar Mujhe Manaane Aaja ...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kabhi aansu kabhi khushi dekhi,
Humne akshar majburi or bekasi dekhi,
Unki naarazgi ko hum kya samjhe,
Humne khud apni taqdeer ki bebasi dekhi...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kaghaj Par Nahi Likhte Kuch Raaz Mohabbat Ke,
Pal Bhar Mein Bikhar Jaate Hain Alfaaz Mohabbat Ke,

Use Toot Kar Chaha Toh Hum Khud Hi Bikhar Gaye,
Aise Badal Jaate Hain Andaaj Mohabbat Ke, ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kal Hum Gaye Maikhane Main
Kum Pad Gayi Sharaab Paymane Main
Kabhi Dekha Karte The Husn Teraa
Aab Kahan Aasie Nazaquat Is Zamane Main
Kabhi Sehte The Teer Tere Fareeb Ke
Aab Kahan Uthti Hai Tees Dil Ko Jalane Main
Kabhi Peete The Teeri Ankhoon Se
Aab Kahan Hai Sharaab-E-Nashee Paimaane Main
Bahut Samjhaya Ki Sharaab Nahi Aachi Ee -ŗvaaiz-�
Ruk Hi Gaye Nikalte Nikalte Maikhane Main

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kal Jo Jaam Aankhon Se Pilaya Kisi Ne
Mad-Hosh Para Raha Na Uthaya Kisi Ne

Mujhe Bhi Kuch Ziada Shoq Tha Peeny Ka
Peeny K Bad Jo Hua Na Bataya Kisi Ne

Kabhi Masjid, Kabhi Mandir Main Ghoomta Raha Rat Bhar
Kabhi Musalman, Kabhi Hindu Banaya Kisi Ne

Aadi Bana K May-Kadah Cheen Lia Gaya Mujh Se
Kuch Is Tarha Mujhe Staya Kisi Ne

Qasm Uski Jawab Main Saghar Choo Ho To
Usi Ka Naam Le Kar May-Kady Main Bulaya Kisi Ne...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Khamosh lab hai jhuki hai palke,
dilo me ulfat nayi nayi hai.
Abhi taklluf hai guftgu me,
abhi mohobat nayi nayi hai.....!!

Abhi na aayegi nind tumko abhi na
hamko suku milega,
abhi to dhadke ka dil jyada abhi ye
chahat nayi nayi hai........!!

Bahar ka aaj pahla din hai chalo
chaman me tahlke aaye,
faza me khushbu nayi nayi hai ...... gulo
pe rangat nayi nayi hai.!!

Jo khandani rahis hai wo mijaz
rakhte hai narm apna,
tumhara lahja bata raha hai
tumhari doulat nayi nayi hai.!!

Jara sa kudarat ne kya nawaza, ke
aake baithe ho pahli saf me,
abhi se udne lage hawa me abhi to
shohrat nayi nayi hai...!!

Bamo ki barsat ho rahi purane
janbaz so rahe hai,...
Gulam duniya ko kar raha hai wo
jiski takat nayi nayi hai....!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kisko Farebi Hum Kahein Kisko Kahein Hum Bewafa,
Kismat Hi Shayad Aisi Likha Kar Laaye Hain Hum,

Aaj Wakif Hai Yaaro Hamse Sahar Ka Har Ek Aadmi,
Magar Apno Ke Liye Hi Dekhiye Paraye Hain Hum….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kitni Jaldi Se Mulakaat Gujar Jaati Hai,

Pyaas Bujhti Nahi Barsaat Gujar Jaati Hai,

Apni Yaadon Se Kaho Ki Yun Naa Sataya Kare,

Neend Aati Nahi Aur Raat Gujar Jaati Hai.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Koi Pakar To Koi Khokar Juda Hota Hai,
Koi Hanskar To Koi Rokar Juda Hota Hai,
Magar Juda Hone Ka Dard Tab Hota Hai,
Jab Koi Kisi Ka Hokar Juda Hota Hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Koi aankhon se baat kar leta hai,

Koi aankhon se mulakaat kar leta hai

, Bada mushkil hota hai jawaab dena,

Jab koi khamosh reh kar sawaal kar leta hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Kuch Tou Pas Rakhty Tum Bhi Mohabbat Ka..!
××××××
Kuch Tou Wady Tum Ne Bhi Nibhaey Hoty.........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Labon pe harf na koi sawal rkhta tha !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Labon pe harf na koi sawal rkhta tha !
*Kbhi main zabt main itna kamal rakhta tha!*

Khabar kahan thee mujhay hi woh bhool jaye ga !
*ek ek chez jo meri sambhaal rkhta tha!*

Bicherte waqt bazahir to kuch na bola tha!
*Magr nigah main so so sawal rkhta tha!*

Wo muskra ke bohat dair chup raha!
*jase hansi ki aar main malal rkhta tha !*

Suna hai ab log usay bohat state hain
*Jis aik shaks ka MAIN bohat khayal rkhta tha.*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Lovely poem.

कहाँ पर बोलना है और कहाँ पर बोल जाते हैं।
जहाँ खामोश रहना है वहाँ मुँह खोल जाते हैं।।

कटा जब शीश सैनिक का तो हम खामोश रहते हैं।
कटा एक सीन पिक्चर का तो सारे बोल जाते हैं।।

नयी नस्लों के ये बच्चे जमाने भर की सुनते हैं।
मगर माँ बाप कुछ बोले तो बच्चे बोल जाते हैं।।

बहुत ऊँची दुकानों में कटाते जेब सब अपनी।
मगर मज़दूर माँगेगा तो सिक्के बोल जाते हैं।।

अगर मखमल करे गलती तो कोई कुछ नहीँ कहता।
फटी चादर की गलती हो तो सारे बोल जाते हैं।।

हवाओं की तबाही को सभी चुपचाप सहते हैं।
च़रागों से हुई गलती तो सारे बोल जाते हैं।।

बनाते फिरते हैं रिश्ते जमाने भर से अक्सर।
मगर जब घर में हो जरूरत तो रिश्ते भूल जाते हैं।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

M
अपनी तो मोहब्बत की इतनी कहानी है ,
टूटी हुई कश्ती और तैरता हुआ पानी है ,
एक फूल किताबो मे दम तोड़ चुका है ,
मगर कुछ याद नही आता हे ये किसकी निशानी है !!

______

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Mai hu agar awaara to wajah hai husn tera ,,,,,,,,,,,'''''''''',,,,,,,,,,'''''''''''''
Mai aisa hargiz na tha tere deedaar se pahle,,,,,,,,'''''''''',,,,,,,,,,'''''''''.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Main Toh Yeh Bhi Nahi Kah Sakta
Ki Is Mein Galti Mere Yaar Ki Hai,

Bewafa Bhi Usko Main Kahun Kaise,
Kyun Ki Toheen Yeh Mere Pyar Ki Hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Maine Bhi Kabhi,
Kisi Se Pyar Kiya Tha,

Thoda Nahi Besumaar Kiya Tha,
Mujhe Kya Pata Tha Ki Woh Bhul Jayegi Humein,

Kasoor Unka Nahi,
Mera Tha, Jo ma ne unse sucha Pyar Kiya tha ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Me Likhne Ko Likh To Du Hal-E -Dil Apna....! !........
Dekho Alfaz Hai Ye Kahi Cheekh Na Pade...! !.........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Meri Aankhon Me Mohabbat Ki Chamak Aaj Bhi Hai.,
Haalaaki Usko Mere  Pyaar Pe  Shaq Aaj Bhi Hai..

Naaw Me Baith Kar Dhoye The Usne Haath Kabhi.,
Poore  Taalaab Me Mehndi Ki Mehak Aaj Bhi Hai..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Meri Mohabbat Ki Na Sahi, Mere Saleeke Ki To Daad De;

Tera Zikr Roz Karte Hain, Tera Naam Liye Bagair!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Mohabbat Mai Kahin Hum Se Gustakhi Na Ho Jaye, Hum Apna Har Qadam UsKe Qadam Ke Baad Rakhte Hain.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Mohabbat Mein, Bekar, Dil Ko Tadpana, Hamein Achha Nahi Lagta,
Har Kisi Ko, Palko Pe Bithana, Hamein Achha Nahi Lagta,

Sacha Saathi Toh Hamein, Aaj Tak Mila Nahi Koi,
Kisi Bewafa Ko, Dil Mein Basana, Hamein Achha Nahi Lagta….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Mujhko Rulakar Woh Bhi Roya Toh Hoga Yaaro,
Muh Ashko Se Usne Bhi Dhoya Toh Hoga Yaaro,
Agar Na Kiya Hai Kuchh Hasil Hamne Pyar Mein,
Kuchh Na Kuchh Usne Bhi Khoya Toh Hoga Yaaro….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Muskilen dil ke irade aajmati hai,
sewpan ke parde nigahon se hatati hai,
hausala mat haar girkar oh mushafir,
thokare insaan ko chalna sikhati hai.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Na dil mein basakar bhulaya karte hain, Na hasakar rulaya karte hain, Kabhi mehsoos kar ke dekh lena, Hum jaise toh dil se rishte nibhaya karte hai.
💘💘💘💘💘💘

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Na jane wo kaun itna haseen hoga...


Aapke haath me jiska naseeb hoga...


Koi aapko chahe ye koi badi baat nahi...


Jisko aap chaho wo khushnaseeb hoga...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Nahi Hota Main Tujhse Juda Bharosa Rakh Ruh Posh...

Ye " NIKAH.E.ISQ" Hai Tera Haq Maher Meri Saansein..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Najro se najro ka takraar hota hai,
Har mod par kisi ka intezaar hota hai,
Dil rota hai aur jakhm haste hai,
Shayad Isi ka naam pyaar hota hai.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Naraaz Naa Ho Humse Hum Na Reh Payenge...

Itna Bada Sadma Na Seh Payenge...


Deti Hai Ghum Zindagi Pal Pal humein...

Tune Diya To Jeene Se Pehle Hi Mar Jayenge…!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Nazar chahti hai jee bhar deedar karna,
dil chahta hai jee bhar ke pyar karna,
kya batayein is dil ka aalam ab hum,
naseeb mein likha hai beinteha intezaar karna.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Palkon Main Qaid Kuch Sapne Hain,
Kuch Bayganay Kuch Apne Hain,
Na Janay Kia Kashish Hai In Khayalon Main,
Woh Ghair Ho K Bhi Kitnay Apne Hain…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Phir Satao Ke Satane Mein Maza Aata Hai
Rooth Jao Ke Manane Mein Maza Aata Hai
Apna Kah dena Kisi Ko Bari Baat NAhi
Apna Kah Kar Nibhane Mein Maza Aata Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Poem of positivity : । खुश हूं 😊

"जिंदगी है छोटी," हर पल में खुश हूं "काम में खुश हूं," आराम में खुश हू 😊

"आज पनीर नहीं," दाल में ही खुश हूं "आज गाड़ी नहीं," पैदल ही खुश हूं 😊

" अगर किसी का साथ नहीं," तो अकेला ही खुश हूं " . , . . आज कोई नाराज है," उसके इस अंदाज से ही खुश हूं 😊

"जिस को देख नहीं सकता," ☺उसकी आवाज से ही खुश हूं "जिसको पा नहीं सकता,".. . उसको सोच कर ही खुश हूं 😊

"बीता हुआ कल जा चुका है," उसकी मीठी याद में ही खुश हूं " 😀 आने वाले कल का पता नहीं," इंतजार में ही खुश हूं 😊

"हंसता हुआ बीत रहा है पल," आज में ही खुश हूं "जिंदगी है छोटी," हर पल में खुश हूं 😊

"अगर दिल को छुआ, तो जवाब देना" "वरना बिना जवाब के भी खुश हूं....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Pyaar ke samandur me sab doobna chahte hain
Pyaar mein kuch khote hain toh kuch pate hain
Pyaar to ek gulaab hai jise sab todna chahte hai
Hum toh ess gulaab ko choomna chahte hain

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Pyar Karne Ke Liye To Yeh Zindagi Itni Choti Pad Jati H,
Pata Nahi Log Nafrat Ke Liye Kaise Time Nikal Lete H.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Ranj Kuch Kam To Hua Aaj Tere Milne Se,
Yeh Alag Baat Ke Woh Baat Nahi Pehle Si.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Roshni bujh gayi mehtab ne dam tod diya...
Aankh khulte hi mere khwab ne dam tod diya...

Aakhri baar usay yaad kiya tha maine...
Aur phir yaad ke har baab ne dam tod diya...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Roz Karta Hun Main Marney Ka Tajarba Jaana,
Tujh Se Hota Hun Juda Jab Bhi MulaQaat Ke Bad.
.....

हम खुदा तुम को बना लेंगे तुम आओ तो सही
*****************************

तुमको हम दिल में बसा लेंगे,तुम आओ तो सही
सारी दुनिया से छुपा लेंगे, तुम आओ तो सही

एक वादा करो अब हमसे ना बिछड़ोगे कभी
नाज़ हम सारे उठा लेंगे, तुम आओ तो सही

बेवफा भी हो, सितमगर भी, जफा पेशा भी
हम ख़ुदा तुमको बन लेंगे, तुम आओ तो सही

एक तिल्खवतभी मिट जाएगी रफ्ता-रफ्ता
जिस तरह होगा माना लेंगे, तुम आओ तो सही.

राह तारीख है और दूर है मंजिल लेकिन
दर्द की शम्में जला लेंगे, तुम आओ तो सही.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Sadgi Main Ek Ada Itni Pyari Lagi
Apki Dosti Humko Subse Nirali Lagi
Yeh Na Tootay Kabhi Yahi Dua Hai
Kyn Ke Yahi Is Duniya Mai Hum Ko Hamari Lagi

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Saza Na Do Muje Beqasur Hoon Me,
Tham Lo Muj Ko Gamon Se Choor Hoon Me,
Teri Doori Ne Kr Dya Pagal Sa Muje,
Or Logon Ka Kehna He K Magroor Hoon Me,

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Sher-O-Shayari:
Do Consider rating us and share the link with your friends :
https://telegram.me/tchannelsbot?start=shayarizone

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Sher-O-Shayari:
Do rate(⭐️⭐️⭐️⭐️⭐️) us and share the link with your friends :
https://telegram.me/tchannelsbot?start=shayarizone

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Sikha Di wafa bhi tumhain Zalim Zamane ne

K Tum Jo seekh Lete ho hum he per Aazmatay ho......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Siwa Tere Nazar Bhar Kar Kisi Ko Kis Tarah Dekhe..!

Nigah-e-Shok Se Sab Cheen Li Dilchaspiyan Tune....!!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Suna Hai!!... Or koi bhi chahne lga Hai TumHe...
Hum se barh kr agar koi Chahe to Uske Ho Jana.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Suna hai ab log usay bohat state hain

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Takdir imtihan le rahi hai zara intzar karna, Kuch hum pe kuch khud pe aitbar karna, Aapko zarur milegi manzil, Bas apni muskarahat hamesha barkarar rakhna.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Tere Bina Kaise Meri Guzarengi Ye Raatein,

Tanhai Ka Gam Kaise Sahengi Ye Raatein,

Bohat Lambi Hai Ye Ghadiyan Intezaar Ki,

Karwat Badal-Badal Kar Katengi Ye Raatein.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Tere Hote Huye Bhi Tanhai Mili Hai,
Wafa Karke Bhi Dekho Buraai Mili Hai,

Jitni Dua Ki Tumhe Pane Ki,
Us se Jayada Teri Judai Mili Hai…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Teri Ibtida Koi Or Hay
Teri Intiha Koi Or Hay

Teri Bat HumSe Hui To Kya
Teri Soch Mai Koi Or Hay

Hame Shouq Tha Bari Dair Se
K Tere Sharek-e-Safar Rahain

Tere Sath Chal k Khabar Hui
Tera Rasta Koi Or Hay

Kabhi Khud Se bhi To Sawal Ker
Tu Wohi Hay Ya Koi Or Hay

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Teri Ulfat Ko Kabhi Nakam Na Hone Denge
Teri Dosti Ko Kabhi Badnam Na Hone Dnge
Meri Zindagi Me Suraj Nikle Na Nikle
Teri Zindagi Me Kabhi Sham Hone Na Denge

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Toofan Mein Kashti Ko Kinare Bhi Milte Hein
Jahaan Mein Logo Ko Sahare Bhi Milte Hein
Duniya Mein Sab Se Pyari Hai Zindagi
Kuch Log Zindagi Se Pyare Bhi Milte Hein

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Tu Dekh Mujhe Itna Ki Teri Najar Lag Jaaye......!!

Teri Najar Se Marna Mujhe Achha Sa Lagta Hain......!!........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Tu dekh ya na dekh, tere dekhne ka gham nahi,


par teri ye na dekhne ki ada dekhne se kam nahi..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Uljhi Hwi Baat Ko Suljhane Ki Zid Na Karo
Jo Na Ho Apna Use Apnane Ki Zid Nakar
Is Samandr Mai Toofan Bohat Ata Hai
Is Ke Sahil Pe Ghr Banane Ki Zid Na Kar

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Unhe Bhoolne Ki Koshish Ki Maine
Dil Ne Kaha Yaad Karte Rehna
Wo Hamare Dard Ki Fariyad Sune Na Sune
Apna To Farz Hai Unhe Pyar Karte Rehna

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Unki Yaadon Ko Abhi Bhi Seene Mein Chhupaye Baitha Hun,
Haay Main Kis Jaalim Se Dil Ko Lagaye Baitha Hun,
Inhi Raahon Se Aayenge, Bhale Hi, Baad Mere Marne Ke,
Kitna Nadan Hun Abhi Bhi Dil Ko Samjhaye Baitha Hun…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Use kaho ki ab tu mulkiyat chhor apni ::::::::::::::::!!!!!!!!!!!!!!:::::::::::::::
Arsa beet gya hai mohabbat ki qiste bharte bharte......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Vada to kar lete hai Nibhana Bhul Jate Hain

Laga k Aag Seene Me Bujhana Bhul Jate hain.
.
Bhulana To Aadat ho gayee hai logo ki.

Rulate hai phir manana bhul jate hain.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

WADA kr k nibhana bhul jate hai
Laga kar aag bhujhana bhul jate hai
Ye to adat ho gyi hai unki
Rulate to hai magar manana bhul jate hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Wada karte hain kasmein khate hain.
Phir bhi jane kyun log sath chod jate hain.
Hamein to takleef hoti hai phool todne mein bhi.
Na jaane kaise log dil tod jaate hain.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Wo kya dil me aae hamare
Hm duniya hi ko bhool gae ...

Manate rahe raat bhar unko khud ko jagana bhool gae...

Khamosh sa ho gaya sama
Saare armaa jab dhool ho gae..

Mahek bhi jaata hu aksar
Us k khayalo me jo kho gae...

Aise hi khud se karte baate
Doosre din bhi hum so gae ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Woh Begaano Mein Apne,
Hum Apno Mein Anjaan Lagte Hain,

Hamare Khoon Ki Keemat Nahi,
Unke Ashkon Ke Bhi Daam Lagte Hain,

Kya Bheekh Mange,
Upar Waale Se Ab Jeevan Ki,

Ab Toh Yeh Lamhe,
Chand Dino Ke Mehmaan Lagte Hain….........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Woh khush hai par shayad hum se nahi
Woh naraz hai par shayad hum se nahi
Kon kehta hai unke dil me mohabbat nahi
Mohabbat to hai par shayad humse nahi.!!

Zindagi hai nadan isliye chup hoon,
Dard hi dard subah sham isliye chup hoon
Keh du zamane se dastan apni,
Usme ayega tera naam isliye chup hoon.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Yaadon main hamari woh bhi khoye honge, Khuli aankhon se kabhi woh bhi soye honge, Mana hasna hai aada gam chupane ki, Par haste-haste kabhi woh bhi roye honge

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Yeh Mana Ke Mohabbat Karna Hai Jurm Magar,
Yeh Jurm Yaaro Baar Baar Karte Hain Hum,

Woh Bewafa Hai Sangdil Hain Jaante Hai Magar,
Unpar Yaaro Aaj Bhi Aitbaar Karte Hain Hum…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Zameen Main Koi Nami Nahi Hai
Phoolon Ke Aanchal Me Koi Kami Nahi Hai
Meri Muhabbat Ko Thukra Naa Dena
Kyon Ke Meri Muhabbat Main Koi Kami Nahi Hia

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Zara Si Zindagi Hain,Armaan Bohat Hain
Hamdard Nahin Koi,Insaan Bohat Hain
Dil Ka Dard Sunaye To Sunaye Kis Ko
Jo Dil Ke Qarib Hain,Wo Anjan Bohat Hain.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Zindagi Mai Hamesha Naye Log Milenge,

Kahin Zyada To Kahin Kam Milenge,


Aitbaar Zara Soch Kar Karna,


Mumkin Nahi Har Jagah Tumhe Hum Milenge !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

Zindagi Roz Naye Rang Mein Dhal Jaati Hai
Kabhi Dushman To Kabhi Dost Nazar Aati Hai
Kabhi Chaa Jaaye,Baras Jaaye,Ghata Beymausam
Kabhii Ek Boond Ko Bhi Rooh Taras Jaati Hai

हिंदी शायरी लिखा हुआ

_❛ ग़ुरूर_
_किस बात पर है ?_

_दुनिया के सारे रास्ते_
_क़ब्रिस्तान की तरफ़ जाते है ❜_

हिंदी शायरी लिखा हुआ

dukh apnā agar ham ko batānā nahīñ aatā

tum ko bhī to andāza lagānā nahīñ aatā

हिंदी शायरी लिखा हुआ

roj aate hai chand sitare magar,
koi khushi ka paigam nahi aata,
hame to intezaar hai jinke sms ka par,
unhe hamara khayal hi nahi aata.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अजब जुल्म करती हैं तेरी यादें मुझ पर..
सो जाऊँ तो उठा देती हैं जाग जाऊँ तो रुला देती हैं..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अजीब जंग मिली, ज़िन्दगी से लड़ने को;

*की रूह थकती नहीं, ज़िस्म हार जाता हैं!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अपना होगा तो सता के मरहम देगा ...जालिम होगा अपना बना के जख्म देगा

समय से पहले पकती नहीं फसल...अरे बहुत बरबादियां अभी मौसम देगा

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अपनी किश्ती के सहारे नहीं मांगा करते
गर्क हो जायें किनारे नहीं मांगा करते
मेरी गुर्बत मुझे फाका करे तो कर जाये
पर अमीरों से गुजारे नहीं मांगा करते
हाथ फैलाने से अच्छा है कि सर कट जाये
अपनी गैरत के नजारे नहीं मांगा करते
दुश्मने दिल से भी खुद्दारियों की उम्मीदें
अपने कदमों में हम हारे नहीं मांगा करते
मेरे इखलासो मुहब्बत ही मेरी दौलत है
हम अदाकार संवारे नहीं मांगा करते
ऐशो इशरत से है ईमान को खतरा लाजिम
अपने ईमां के बिगाड़े नहीं मांगा करते
खात्मा खैर पे हो इस की दुआ करता हूं
नफ्स से कोई शरारे नहीं मांगा करते
बदनुमा दाग कफन में न कोई हो 'अखतर'
देहर किरदार के मारे नहीं मांगा करते

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अपने खुदा से जब भी अपना मुक़द्दर मांगेंगे ,
और भले ही कुछ न मांगें, तुम्हें उम्र-भर मांगेंगे ….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अपने वो नही होते जो
तस्वीर
में साथ खड़े होते हैं,

अपने वो हैं जो
तकलीफ
में साथ खड़े होते हैं.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अब इतना भी„ खूब ना लिखा „ करो यारो..........,

आप सबके , अल्फ़ाज़ों „ से इश्क़ „ सा होने लगा है........💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अभी सूरज नहीं डूबा जरा सी शाम होने दो,
मैं खुद लौट जाऊंगा मुझे नाकाम तो होने दो,
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है जमाना,
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

अहले-ए-दिल और भी हैं अहल-ए-वफ़ा और भी हैं
एक हम ही नहीं दुनिया से ख़फ़ा और भी हैं

हम पे ही ख़त्म नहीं मस्लक-ए-शोरीदासरी
चाक दिल और भी हैं चाक क़बा और भी हैं

क्या हुआ गर मेरे यारों की ज़ुबानें चुप हैं
मेरे शाहिद मेरे यारों के सिवा और भी हैं

सर सलामत है तो क्या संग-ए-मलामत की कमी
जान बाकी है तो पैकान-ए-कज़ा और भी हैं

मुंसिफ़-ए-शहर की वहदत पे न हर्फ़ आ जाये
लोग कहते हैं कि अरबाब-ए-जफ़ा और भी हैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आँखों में मेरी कई लोगो ने पड़ा है ,
पिंजरे के पंछी सा दिल बेबस खड़ा है ,
आज़ाद होकर खुले आसमां में उड़ने को बेकरार है
किसी और का नहीं मुझे सिर्फ तेरा ही इंतेज़ार है ..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आंसुओं की बूँदें हैं या आँखों की नमी है..न ऊपर आसमां है न नीचे ज़मी है

यह कैसा मोड़ है ज़िन्दगी का उसी की ज़रूरत है और उसी की कमी है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आज असमान के तारों ने मुझे पूछ लिया; क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है उसके लौट आने का! मैंने मुस्कुराकर कहा; तुम लौट आने की बात करते हो; मुझे तो अब भी यकीन नहीं उसके जाने का!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आज आपके प्यार में कमी देखी;
चाँद की चांदनी में कुछ नमी देखी;
उदास होकर लौट आए हम;
जब महफ़िल आपकी गैरों से सजी देखी।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये ..
तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये
कई बार पुकारा इस दिल मैं तुम्हें
और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आज फिर आइना देख के दिल टूटा
शक्ल मेरी दिखा रही थी यार रूठा
बदलते दौर में ये भी फरेब होता है
शक्ल है गैर और आइना हुआ झूठा
याद अक्सर क्यों उसी की आती है
तोड़ जज्बात जिसने मेरा दिल लूटा

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आते-आते मेरा नाम सा रह गया
उस के होंठों पे कुछ काँपता रह गया

वो मेरे सामने ही गया और मैं
रास्ते की तरह देखता रह गया

झूठ वाले कहीं से कहीं बढ़ गये
और मैं था कि सच बोलता रह गया

आँधियों के इरादे तो अच्छे न थे
ये दिया कैसे जलता रह गया

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आन अगर इश्क़ पर आये,
तो अनमोल जान बेमोल होती है।
एक सुख राज भगत दूजे राष्ट्रमाता,
कुछ ऐसी ही सच्चा तोल होती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आपके दिल में जगह न बना पाए जरुर कुछ खामियां होंगी मुझमे,
और आपको नाम याद है मेरा तो फिर कुछ तो बात है ही मुझमे..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

आसुओ को पलकों में लाया न कीजिये,
दिल की बात हर किसी को बताया न कीजिये,
मुट्ठी में नमक लेकर गुमते है लोग,
अपने ज़ख़्म हर किसी को दिखाया न कीजिये..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इक बार ही जीने कि सजा क्युँ नही देते,
गर हर पे खता हो तो मिटा क्युँ नही देते।।

अब शिद्दते गम से मेरा दम घुटने लगा है,
तुम रेशमी जुल्फो कि हवा क्युँ नही देते।।

तुम इतने गरमोँ निशाँ गम खार हो मेरे तो,
यारो मुझे मरने कि दुआ क्युँ नही देते।।

साया हुँ तो फिर साथ रखने का सबब क्या,
पत्थर हुँ तो रस्ते से हटा क्युँ नही देते।।

रहजन हो तो फिर शौक से लुटो वफाएँ दिल,
रहबर हो तो मँजिल का पता क्युँ नही देते।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इतने ‎बेवफा नही जो तुम्हे
भूल जायेंगे...
अक्सर ‎चुप रहने वाले प्यार
बहोत करते है..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इन आंखो मे आंसू आये न होते; अगर वो पीछे मुडकर मुस्कुराये न होते! उनके जाने के बाद बस येही गम रहेगा; कि काश वो हमारी ज़िन्दगी मे दूबारा आये न होते!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इन ताज़ी हवाओं में फूलों की महक हो;
पहली किरण में पंछियों की चहक हो;


🐾🍃🐾🍃🐾🍃🐾🍃🐾


जब भी खोलो आप अपनी पलकें;
उन पलकों में बस खुशियों की झलक हो।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इश्क तुझसे करती हूं मैं जिंदगी से ज्यादा मैं डरती नहीं मौत से तेरी जुदाई से ज्यादा चाहे तो आजमा ले मुझे किसी और से ज्यादा मेरी जिंदगी में कुछ नहीं तेरी मोहब्बत से ज्यादा !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इश्क ने हमें बेनाम कर दिया हर खुशी से हमें अंजान कर दिया हमने तो कभी नहीं चाहा किहमें भी मोहब्बत हो लेकिन आप की एक नजर ने हमे नीलाम कर दिया !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इश्क है वही जो हो एक तरफा,
इजहार-ए-इश्क तो ख्वाहिश बन जाती है,
है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ,
जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इश्क है वही जो हो एक तरफा,इजहार-ए-इश्क तो ख्वाहिश बन जाती है,



है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ,जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए!
कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए!
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था!
आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए,
कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए,
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए!💔💔🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

इस तरह तुझको दिल से अपने भुलाया भी नही
खतो को तेरे फाड़ा भी नही, जलाया भी नही
मेरी हर खुशी मेरे हर गम में हर पल शामिल थी तु
बाद तेरे किसी ने हसाया भी नही रूलाया भी नही
तेरे अलावा और किससे रखते हम वफा की उम्मीद
बाद जाने के तेरे कोई आया भी नही हमने बुलाया भी नही
उम्मीद हो जिसमें थोड़ी बहुत भी मिलने की तुझसे
निगाहो ने ऎसा कोई ख्वाब कभी दिखलाया भी नही
एक वादे पर किसी के लुटा देते हम सबकुछ अपना
क्या करे किसीने अब तक हमको आजमाया भी नही
दोष तेरा नही, फुल से मेरे, इस नाजुक दिल का है
क्या करे किसी ने अब तक इसको इतना तड़पाया भी नही
कैसे गिनाता कितनी राते जागकर काटी हैं याद में तेरी,
हिसाब अब-तक जिसका मैने लगाया भी नही
सफर कटता भी तो आखिर किसके भरोसे कटता
मिला कोई हमदर्द भी नही हमसाया भी नही

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उजड़ी हुई दुनिया को तू आबाद न कर

बीते हुए लम्हों को तू याद न कर

एक कैद परिंदे ने ये कहा हमसे

मैं भुल चुका हूं उड़ना मुझे आजाद न कर !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उदास नहीं होना, क्योंकि मैं साथ हूँ!
सामने न सही पर आस-पास हूँ!
पल्को को बंद कर जब भी दिल में देखोगे!
मैं हर पल तुम्हारे साथ हूँ!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उनका भी कभी हम दीदार करते है उनसे भी कभी हम प्यार करते है क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी पर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है उनके इंतजार में दिल तरसता है क्या कहें इस कम्बख्त दिल को अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उन्हें ये शिकायत है हमसे कि हम हर किसी को देख कर मुस्कुराते है,

नासमझ है वो क्या जाने हमें तो हर चेहरे मेँ वो ही नजर आते है..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया.

मुठ्ठियों में कैद है जो खुशियाँ सब में बांट दो...!!
तेरी हो चाहे मेरी हो एक दिन हथेलियां तो खुल ही जानी हैं...!!💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उम्र खासी_तुझे_छू_लेने की_कोशिश मे कटी !!

जो बची खुद से न छू पाने की पुर्शिस मे कटी !!
💠💠💠💠💠💠💠💠

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उलझी शाम को पाने की ज़िद न करो;
जो ना हो अपना उसे अपनाने की ज़िद न करो;
इस समंदर में तूफ़ान बहुत आते है;
इसके साहिल पर घर बनाने की ज़िद न करो।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

उसे अबकी वफाओं से गुजर जाने की जल्दी थी
मगर इस बार मुझको अपने घर जाने की जल्दी थी

इरादा था कि मैं कुछ देर तूफां का मजा लेता
मगर बेचारे दरिया को उतर जाने की जल्दी थी

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है!
इंकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है!
उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद!
फिर भी हर मोड़ पर उसी का इन्तज़ार क्यों है!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक दिन आख़िर महल को तो खंडर होना ही था
💕💕
💕💕
ख़्वाहिशें थी ख्वाहिशों को दरबदर होना ही था

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक पसंदीदा गजल के कुछ शेर दोबारा
नींद आंखो मे मुसलसल नही होने देता
वो मिरा ख्वाब मुकम्मल नही होने देता।।
आंख के शीशमहल से वो किसी भी लम्हें
अपनी तसवीर को अोझल नही होने देता।।
दिल तो कहता है उसे लौट के आना है यहीं
ये दिलासा मुझे पागल नहीं होने देता ।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक बार ही जी भर के सज़ा क्यूँ नहीं देते ?
मैं हर्फ़-ए-ग़लत हूँ तो मिटा क्यूँ नहीं देते ?

मोती हूँ तो दामन में पिरो लो मुझे अपने,
आँसू हूँ तो पलकों से गिरा क्यूँ नहीं देते ?

साया हूँ तो साथ ना रखने कि वज़ह क्या 'फ़राज़',
पत्थर हूँ तो रास्ते से हटा क्यूँ नहीं देते ?

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक मसला-ए-मोहब्बत, जो कभी सुलझा नही,
हमने कभी कहा नही, उसने कभी समझा नही,

ये इश्क में सजा रही, अब जिंदगी में मज़ा नही,
जख्म कभी दिखा नही, इस दर्द की दवा नही,

सजाये बहुत साज़ हमने, दिल के आशियाने में,
कभी गीत कोई सुना नही, साज़ कोई बजा नही,

जो मिला वो ज़मा नही, जो ज़मा वो मिला नही,
यही उसकी रज़ा रही, ये “मन” कभी समझा नही,
_____________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक लड़की ने क्या खूब लिखा है,

में जब अपनी आँखें झुका कर चलती हुँ तो मेरे पिता और मेरा भाई सर उठा कर चलते है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

एक ख़ुशी की चाह में हर ख़ुशी से दूर हुए हम; किसी से कुछ कह भी ना सके इतने मज़बूर हुए हम; ना आई उन्हें निभानी वफ़ा इस दौर-ए-इश्क़ में; और ज़माने की नज़र में बेवफ़ा के नाम से मशहूर हुए हम।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ओस की बूंदे है, आंख में नमी है,

ना उपर आसमां है ना नीचे जमीन है

ये कैसा मोड है जिन्‍दगी का

जो लोग खास है उन्‍की की कमी हैं ”

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा; खुद टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा; इश्क़ की आग में उसको इतना जला देंगे; कि इज़हार वो मुझसे सर-ए-बाजार करेगा।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कब याद मे तेरा साथ नहीं, कब हाथ में तेरा हाथ नहीं;
साद शुक्र की अपनी रातो में अब हिज्र की कोई रात नहीं;

मुश्किल है अगर हालत वह, दिल बेच आए, जा दे आए;
दिल वालो कूचा-ए-जाना में, क्या ऐसे भी हालात नहीं;

जिस धज से कोई मकतल में गया, वो शान सलामत रहती है;
ये जान तो आनी-जानी है, इस जान की तो कोई बात नहीं;

मैदान-ए-वफ़ा दरबार नहीं, या नाम-ओ-नसब की पूछ कहाँ;
आशिक तो किसी का नाम नहीं, कुछ इश्क किसी की जात नहीं;

गर बाज़ी इश्क की बाज़ी है, ओ चाहो लगा दो दर कैसा;
गर जीत गए तो क्या कहने, हारे भी तो बाज़ी मात नहीं।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी आंसू, कभी सजदे, तो कभी हाथों का उठ जाना..

मोहब्बत नकाम हो जाएँ, तो रब बहुत याद आता ह..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी इतना मत मुस्कुराना की नजर लग जाए जमाने की, हर आँख मेरी तरह मोहब्बत की नही होती....!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी कभी मेरी आँखे यूँ ही रो पडती है..मै इनको कैसे समझाऊँ

कि कोई शक्स सिर्फ चाहने से ही अपना नही हो जाता....किस्मत की लकीरें भी चाहिए

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी किसी के दिल से खिलवाड़ मत करना
कभी किसी के दिल का दर्द मत बनना
जो न दे सको किसी का साथ जिंदगी भर
कभी किसी से झूठा प्यार मत करना.?

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी किसी से प्यार मत करना हो जाए तो इनकार मत करना निभा सको तो चलना उसकी राह पर वरना किसी की ज़िंदगी बरबाद मत करना

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी तुम पूछ लेना
कभी हम भी जिक्र
कर लेंगे,,,

छुपाकर दर्द दिल
का एक दूसरे की
फ़िक्र कर लेंगे,,,

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी तो खर्च कर दिया करो..
खुद को मुझ पर...
तसल्ली रहें..
मामूली नही है हम....
.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी लगा वो मुझे सता रहे है,
कभी लगा के वो करीब आ रहे है,

कुछ लोग होते है आंसुओं की तरह,
पता ही नही लगता साथ दे रहे है या छोड़ कर जा रहे है…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कभी-कभी यूं ही चले आया करो,,
दिल की दहलीज़ पर......

अच्छा लगता है,
यूं तन्हाईयों में,,
तुम्हारा दस्तक देना....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कम से कम ​तन्हाई तो साथी है​;​ अपनी ​जिंदगी के हर एक पल की​;​​ चलो ये शिकवा भी दूर हुआ कि​;​​ किसी ने साथ नहीं दिया​।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

करके बड़े बड़े वादे तोड़ गई वो,


समझ ही नहीं आया की माशुका थी या सरकार...💕💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

करीब आ तेरी आँखो में

देख लु खुद को

बहोत दिनों से कोई

आईना नही देखा.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कलम से दिल की आवाज लिखता हूं गम-ए-जुदाई के अंदाजे बयां लिखता हूं

रूकते नहीं आंखो से आंसू जब भी उसके याद में अलफाज लिखता हूं !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कसर कोई मत छोडना तुम दिल 💔 से खेलकर मुझे सताने में ….. लेकिन याद रखना जान से भी खेलकर कोशिशे करोगे इक दिन मुझे मनाने में

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कहते है की पहला प्यार कभी भुलाया नही जाता;

फिर पता नही लोग अपने माँ बाप का प्यार क्यूँ भूल जाते है !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कहते है दोस्त मुझसे के तू कितना खुश नसीब है.....तू शायरी लिखता है

आज मैं कहता हूँ रब किसी को शायर न बनाये..इस हुनर को पाने मे बड़ा दर्द होता है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कहाँ पर बोलना है और कहाँ पर बोल जाते हैं।
*जहाँ खामोश रहना है वहाँ मुँह खोल जाते हैं।।*

कटा जब शीश सैनिक का तो हम खामोश रहते हैं।
*कटा एक सीन पिक्चर का तो सारे बोल जाते हैं।।*

नयी नस्लों के ये बच्चे जमाने भर की सुनते हैं।
*मगर माँ बाप कुछ बोले तो बच्चे बोल जाते हैं।।*

बहुत ऊँची दुकानों में कटाते जेब सब अपनी।
*मगर मज़दूर माँगेगा तो सिक्के बोल जाते हैं।।*

अगर मखमल करे गलती तो कोई कुछ नहीँ कहता।
*फटी चादर की गलती हो तो सारे बोल जाते हैं।।*

हवाओं की तबाही को सभी चुपचाप सहते हैं।
*च़रागों से हुई गलती तो सारे बोल जाते हैं।।*

बनाते फिरते हैं रिश्ते जमाने भर से अक्सर।
*मगर जब घर में हो जरूरत तो रिश्ते भूल जाते हैं।*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कहाँ पर बोलना है और कहाँ पर बोल जाते हैं।
जहाँ खामोश रहना है वहाँ मुँह खोल जाते हैं।।

कटा जब शीश सैनिक का तो हम खामोश रहते हैं।
कटा एक सीन पिक्चर का तो सारे बोल जाते हैं।।

नयी नस्लों के ये बच्चे जमाने भर की सुनते हैं।
मगर माँ बाप कुछ बोले तो बच्चे बोल जाते हैं।।

बहुत ऊँची दुकानों में कटाते जेब सब अपनी।
मगर मज़दूर माँगेगा तो सिक्के बोल जाते हैं।।

अगर मखमल करे गलती तो कोई कुछ नहीँ कहता।
फटी चादर की गलती हो तो सारे बोल जाते हैं।।

हवाओं की तबाही को सभी चुपचाप सहते हैं।
च़रागों से हुई गलती तो सारे बोल जाते हैं।।

बनाते फिरते हैं रिश्ते जमाने भर से अक्सर।
मगर जब घर में हो जरूरत तो रिश्ते भूल जाते हैं।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

क़ुछ इसलिये भी नहीं करते
हाल-ए-दिल बयां......

समझता कोई नहीं,
समझाता हर कोई है !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कागज़ पे हमने भी ज़िन्दगी लिख दी,
अश्क से सींच कर उनकी खुशी लिख दी,
दर्द जब हमने उबारा लफ्जों पे,
लोगों ने कहा वाह क्या गजल लिख दी..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

काटो के बदले फूल क्या दोगे,
आँसू के बदले खुशी क्या दोगे,
हम चाहते है आप से उमर भर की दोस्ती,
हमारे इस शायरी का जवाब क्या दोगे?

हिंदी शायरी लिखा हुआ

काश कभी तुम समझ पाओ इस प्यार के जुनून को,
हैरान रह जाओगे मेरे दिल में अपनी कदर देख कर…!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,
गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता,
एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को,
क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता|

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता;
गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता;
एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को;
क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कितने मजबूर हैं हम प्यार के हाथों,
ना तुझे पाने की औकात…
ना तुझे खोने का हौसला।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

किसी और को तुम्हारी जगह ला नहीं सके

और आपकी म्ह्फिल मे जगह पा नहीं सके

बस इस्लिये दो चार क्या लाखों के साथ भी

तन्हाइ अपने दिल की हम मिटा नहीं सके

हिंदी शायरी लिखा हुआ

किसी को तकलीफ़ देकर मुझसे
अपनी ख़ुशी की दुआ मत करना ,
लेकिन ...
अगर किसी को एक पल की भी ख़ुशी देते हो तो ...
अपनी तकलीफ़ की फ़िक्र मत करना !!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

किसी को दिल मे छुपाना कोई ग़लत तो नही,
किसी को दिल मे बसाना कोई ख़ता तो नही,
ये दुनियावालो की नज़र मे बुरा हे तो क्या हुवा,
दुनियावाले भी तो इंसान हे कोई खुदा तो नही.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

किसी ने हमसे पूछ लिया –
कैसे हो ? हमने हंस कर कहा-
जिन्दगी में गम है, गम में दर्द है,
दर्द में मज़ा है. . और .. मजे में हम हैं**********

हिंदी शायरी लिखा हुआ

किसी भी मोड़ पर अगर​ ,
मै बुरा लगूं ,
​तो ज़माने को बताने से पहले​ ,
एक बार मुझे जरूर बता देना ,
बदलना मुझे है ,
ज़माने को नहीं ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कुछ चेहरे कभी भुलाये नहीं जाते,

कुछ नाम दिल से मिटाए नहीं जाते,

मुलाक़ात हो या न हो, लेकिन अऐ यार,

प्यार के चिराग कभी बुझाये नहीं जाते !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है मुस्कुराने के लिए भी रोना पड़ता है यूं ही नहीं होता है सवेरा सुबह होने के लिए रात भर सोना पड़ता है! शुभ रात्री !! गुड नाईट !!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कुछ लोग खोने को प्यार कहते हैं
तो कुछ पाने को प्यार कहते हैं
पर हकीक़त तो ये है.
हम तो बस निभाने को प्यार कहते हैँ...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह,
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए,
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कोई जुदा हो गया कोई ख़फ़ा हो गया; यह दुनिया के लोगों को क्या हो गया; जिस सजदे में मुझे उस को माँगना था रब से; अफ़सोस वही सजदा क़ज़ा हो गया।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कोई मिला ही नही
जिससे वफ़ा करते ,
हर इक ने धोखा दिया
किस-किस को सज़ा देते ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कोई समझता नहीं उसे इसका गम नहीं करता;
पर तेरे नजरंदाज करने पर हल्का सा मुस्कुरा देता है;
उसकी हंसी में छुपे दर्द को महसूस तो कर;
वो तो हंस के यूँ ही खुद को सजा देता है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कोशिश करो की कोई हम से न रूठे ! जिन्दगी में अपनों का साथ न छूटे ! रिश्ते कोई भी हो उसे ऐसे निभाओ ! कि उस रिश्ते की डोर ज़िन्दगी भर न छूटे

हिंदी शायरी लिखा हुआ

कौन यहाँ किसको अपने दिल में जगह देता है
हुज़ूर मतलब निकल जाए तो हर कोई भूला देता है
हमे मत समझाओ वाकिफ हैं हम दुनिया के रिवाजों से
अजी पेड़ भी सूखे पत्तों को गिरा देता है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

क्या कुछ न किया है और क्या कुछ नहीं करते;
कुछ करते हैं ऐसा ब-खुदा कुछ नहीं करते;
अपने मर्ज़-ए-गम का हकीम और कोई है;
हम और तबीबों की दवा कुछ नहीं करते।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

क्या खुब लिखा है गुलजार जी ने ...

पानी से तस्वीर
कहा बनती है,
ख्वाबों से तकदीर
कहा बनती है,
किसी भी रिश्ते को
सच्चे दिल से निभाओ,
ये जिंदगी फिर
वापस कहा मिलती है
कौन किस से
चाहकर दूर होता है,
हर कोई अपने
हालातों से मजबूर होता है,
हम तो बस
इतना जानते हैं...
हर रिश्ता "मोती" और
हर दोस्त "कोहिनूर" होता है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

क्या पता क्या खूबी है उनमे और क्या कमी है हम में,
वो हमे अपना नही सकते और हम उन्हे भुला नही सकते !!
🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

क्यूँ दुनिया वाले मोहब्बत को खुदा का दर्ज़ा देते हैं,

हमने आज तक नहीं सुना कि खुदा ने बेवफाई की हो...!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खताएँ माफ़ कर मालिक
तेरे नादान बच्चे है

हैं इतने लोभ दुनिया में
बहक जाते हैं कच्चे हैं ।।।

​​​​​​​​

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ख़ुद्दारियों के ख़ून को अरज़ाँ न कर सके
हम अपने जौहरों को नुमायाँ न कर सके

होकर ख़राब-ए-मय तेरे ग़म तो भुला दिये
लेकिन ग़म-ए-हयात का दरमाँ न कर सके

टूटा तलिस्म-ए-अहद-ए-मोहब्बत कुछ इस तरह
फिर आरज़ू की शमा फ़ुरेज़ाँ न कर सके

हर शय क़रीब आ के कशिश अपनी खो गई
वो भी इलाज-ए-शौक़-ए-गुरेज़ाँ न कर सके

किस दरजा दिल-शिकन थे मोहब्बत के हादसे
हम ज़िन्दगी में फिर कोई अरमाँ न कर सके

मायूसियों ने छीन लिये दिल के वल-वले
वो भी निशात-ए-रूह का सामाँ न कर सके

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खामोशी से बिखरना आ गया है,
हमें अब खुद उजड़ना आ गया है,

किसी को बेवफा कहते नहीं हम,
हमें भी अब बदलना आ गया है,

किसी की याद में रोते नहीं हम,
हमें चुपचाप जलना आ गया है,

गुलाबों को तुम अपने पास ही रखो,हमें कांटों पे चलना आ गया है|

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खिड़की पे उतर आया चाँद तुम्हें सोते सोते जगा न दे
देख रही हो जो हसीन ख्वाब कहीं उनको मिटा न दे
कभी खड़ी न होना तुम खिड़की पे ज़ुल्फों को बिखराए
बड़ी जालिम होती है या बादेसबा ज़ुल्फों को उड़ा न दे
न देखा करो तुम सबकी तरफ यूं मदमस्त निगाहों से ही
कहीं कोई मनचला तेरे चेहरे पे अपनी निगाह गड़ा न दे
ये खतरे की बात नहीं है लेकिन फिर भी आगाह करता हूँ
कहीं तेरे बदन की कोई जुंबिश किसी पे नशा चढ़ा न दे
इतना हुस्न तुम्हें मिला है बोलो उसे लेकर तुम क्या करोगी
कभी कभी महफिल आ जावों सहर की दिल तुमको दुवा दे

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खुदा मुझसे माँ की मुहब्बत ना छीने ।
खुद मुझसे माँ की मुहब्बत ना छीने ।
अगर छीन ना है जहाँ छीन ले वो ।
जमीं छीन ले आसमां छीन ले वो ।
मेरे सर की बस एक ये छत ना छीने ।
खुद मुझसे माँ की मुहब्बत ना छीने ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

खोया इतना कुछ कि फिर पाना न आया,
प्यार कर तो लिया पर जताना न आया,
आ गए तुम इस दिल में पहली ही नज़र में
बस हमें आपके दिल में समाना ना आया..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ख्याल में आता है जब भी उसका चेहरा; तो लबों पे अक्सर फरियाद आती है; भूल जाती हूँ सारे ग़म और सितम उसके; जब भी उसकी थोड़ी सी मोहब्बत याद आती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

गम इस बात का नही कि तुम बेवफा निकली,

मगर अफ़सोस ये है कि

वो सब लोग सच निकले जिनसे मैं तेरे लिए लड़ा करता था

हिंदी शायरी लिखा हुआ

गलती से ये रिश्ता उनसे जोड़ लिया हमने,
💕💕
💕💕
जिनकी खुद की डोर किसी और के हाथों में थी !!___________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

गिर के संभलने के हुनर से हम भी वाकिफ थे,गिरे फ़क़त इस वास्ते कि..
ठोकर तो उस पत्थर ने मारा जिसे हमने खुदा माना ।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

गुनाह करके सजा से डरते है,
ज़हर पी के दवा से डरते है.
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे,
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

घर से अपने हम निकले और उधर हमारे सनम निकले,
तुमसे मिलने की चाह में कितने जन्म निकले,
अब तो बस यही चाह है मेरी कि बस तेरी बाँहों में ही ये दम निकले।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

चमन से कौन चला ये खामोशियाँ लेकर ?

कली-कली तड़प उठी है सिसकियाँ लेकर तमाशा देख रहे थे

जो डूब जाने का मेरे मेरी तलाश में निकले है देखो कश्तिया लेकर !!_____________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा,
लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा,
मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए,
क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

चील की ऊँची उड़ान देखकर चिड़िया कभी डिप्रेशन में नहीं आती,
वो अपने आस्तित्व में मस्त रहती है,
मगर इंसान, इंसान की ऊँची उड़ान देखकर बहुत जल्दी चिंता में आ जाते हैं।
तुलना से बचें और खुश रहें।
ना किसी से ईर्ष्या , ना किसी से कोई होड़..!!!
मेरी अपनी हैं मंजिलें , मेरी अपनी दौड़..!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

चुपके से आकर मेरे कान मे,
एक तितली कह गई अपनी ज़ुबान मे…
उड़ना पड़ेगा तुमको भी,
मेरी तरह इस तूफान मे…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जज़्बात कहते हैं
खामोशी से बसर हो जाए...
दर्द की ज़िद्द है कि
दुनिया को खबर हो जाए...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब आप का नाम जुबान पर आता है पता नही दिल क्यों मुस्कुराता है तसल्ली होती है मन को कोई तो है अपना जो हँसते हुए हर वक्त याद आता है…!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है!
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है!
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब खामोश आँखो से बात होती है ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं पता नही कब दिन और कब रात होती है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब टूटने लगे हौंसला तो बस यही याद रखना,

बिना मेहनत के कभी तख्तो-ताज हासिल नहीं होते,

ढूंढ लेना अंधेरों में भी तुम मंज़िल अपनी,

क्योंकि जुगनू कभी रौशनी के मोहताज़ नहीं होते. ________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब तक तुम्हें न देखूं!
दिल को करार नहीं आता!
अगर किसी गैर के साथ देखूं!
तो फिर सहा नहीं जाता!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जब भी तिरी यादों की चलने लगी पुरवाई
हर जख्म हुआ ताजा ,हर चोट उभर आई।।
इस बात पे हैरा़ं है , साहिल के तमाशाई
इक टूटी हुई कश्ती ,हर मौज से टकराई।।
हंगामा हुआ बरपा, इक जाम अगर टूटा
दिल टूट गये लाखों आवाज नहीं आई ।।
किस दर्जा सितमगर है , ये गरदिशे दौरां भी
खुद आज तमाशा है , कल थे जो तमाशाई ।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जरा सी ठोकर लगते ही रास्ते बदल लेते है,
💕💕
💕💕
और तम्मना तो देखो हज़ारों मंजिलों की

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जवानी, हुस्न, मयख़ाने, लबौ रूख़सार बिकते हैं...
हया के आईने भी अब ,सरे बाज़ार बिकते हैं...

शराफत ज़र्फ, हमदर्दी ,दिलों से हो गयी रुख़सत....
जहां दौलत चमकती है ,वहीं किरदार बिकते हैं...

वहां हथियार बिकने का, अजब दस्तूर निकला है....
हमारे गांव में अब तक, गुलों के हार बिकते हैं...

हमारे रहनुमाओं को ,हुआ क्या है ख़ुदा जाने...
कभी इस पार बिकते हैं, कभी उस पार बिकते हैं...

ज़रा खुद सोचिए हम पर, तबाही क्यूं ना आएगी...
ये दौर ऐसा है जिसमें ,कौम के किरदार बिकते हैं... !!........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जवानी, हुस्न, मयख़ाने, लबौ रूख़सार बिकते हैं...
हया के आईने भी अब ,सरे बाज़ार बिकते हैं...

शराफत ज़र्फ, हमदर्दी ,दिलों से हो गयी रुख़सत....
जहां दौलत चमकती है ,वहीं किरदार बिकते हैं...

वहां हथियार बिकने का, अजब दस्तूर निकला है....
हमारे गांव में अब तक, गुलों के हार बिकते हैं...

हमारे रहनुमाओं को ,हुआ क्या है ख़ुदा जाने...
कभी इस पार बिकते हैं, कभी उस पार बिकते हैं...

ज़रा खुद सोचिए हम पर, तबाही क्यूं ना आएगी...
ये दौर ऐसा है जिसमें ,कौम के किरदार बिकते हैं....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ज़रूरी काम है लेकिन ..,,
रोज़ाना भूल जाता हूँ
मुझे तुम से मोहब्बत है ..,,
बताना भूल जाता हूँ

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जाती है धुप उजले परो को समेट के ,


जख्म को अब गिनूगा मे बिस्तर पे लेट के !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जाने उस शख्स को कैसे ये हुनर आता है . रात होती है तो आँखों में उतर आता है ...! मैं उस के खयालो से बच के कहाँ जाऊं . वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है..!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जाने क्यों अकेले रहने को मज़बूर हो गए; यादों के साये भी हमसे दूर हो गए; हो गए तन्हा इस महफ़िल में; कि हमारे अपने भी हमसे दूर हो गए।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिंदगी प्यार की ड़गर न हुई ।
क्यूं कभी हार का सफ़र न हुई।
वो चला जीतने जहाँ को मगर,
बात कहता था जो मगर न हुई।
बैठ जो भी गए तेरी ही तरह,
ऐसे मंजिल कभी यूं सर न हुई।
याद करते रहे ज़नाब जिसे,
गुफ्तगू फिर उसी बसर न हुई।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिंदगी बहुत कुछ सिखाती है ,
कभी हँसाती है तो कभी रुलाती है ,
पर जो हर हाल में खुश रहते हैं ,
जिंदगी उन्ही के आगे सर झुकाती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिंदगी में एक बात हमेशा होती है ...

लोग धोखा वहीँ से खाते हैं..

जहां गुंजाईश नहीं होती है !!💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिंदगी में हमेशा सबकी जरुरत रखो पर कभी किसी की कमी नहीं;

क्योंकि

जरुरत और कोई भी पूरी कर सकता है पर किसी की कमी कोई पूरी नहीं कर सकता।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जितनी शिद्दत से चाहा था तुझको,
💕💕
💕💕
कोई दुश्मन भी होता तो उम्रभर साथ निभाता !!___________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिनके आँगन में अमीरी के शजर लगते हैं....


उनके हर ऐब ज़माने को हुनर लगते हैं ...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिन्दगी एक रात है, जिस में ना जाने कितने ख्वाब हैं, जो मिल गया वो अपना है, जो टुट गया वो सपना है, ये मत सोचो की जिन्दगी में कितने पल है, ये सोचो की हर पल में कितनी जिन्दगी है, इसलिए… जिन्दगी को जी भर कर जी लो…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिन्दगी में आप जो करना चाहते है, वो जरूर कीजिये, ये मत सोचिये कि लोग क्या कहेंगे. क्योंकि लोग तो तब भी कुछ कहते है, जब आप कुछ नहीं करते."

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जिसे तुम जिन्दगी जानो,,तुम्हे वो रोग कहता हो,कि जिसने खुद ही चाहत से,तुम्हारा हाथ थामा हो,वो अपने दिल के दरवाजे,तुम्ही पे बन्द कर दे तो,,,,मुहब्बत मर भी सकती है,तुम्हे संगसार करने को,जो संग बाँटे लोगो में,सबा को रोकने को,क़फ़ल डाले दरीचो में,कर के बन्द घर में ,साँस पे पहरे लगाए तो,,,,,मुहब्बत मर भी सकती हैं,यह किसने कह दिया तुम से,मुहब्बत मर नही सकती,कि जब कोई तुम्हे,,जान से गुजर जाने को कहता हो,आधी राह में खुद ही ,मुड़ जाने को कहता हो,,वो अपनी बेवफ़ाई का,खुद ही एतराफ़ करे तो,मुहब्बत मर भी सकती हैमुहब्बत मर भी सकती ह

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जुर्म किसका था मिली किसको सज़ा रहने दो,
किसको होना था हुआ कौन रिहा रहने दो..
दफ़्न मुझमें हैं कई ख़्वाब अज़ल से लेकिन,
मेरी आँखों में उम्मीदों का दिया रहने दो..
ज़िंदगी मेरी किसी और के हिस्से की थी,
किसके हाथों से मिली मुझको क़ज़ा रहने दो..
खो न जाऊँ मैं कहीं भीड़ भरी दुनिया में,
मेरा चेहरा है मेरा इसको मेरा रहने दो ..
दौर-ए-ग़र्दिश में मेरे दिल को तसल्ली मिलती,
उसकी चौखट पे मेरा सर ये झुका रहने दो..
जिस्म मिट्टी का लिए मैं हूँ पड़ा दरिया में,
मेरे होंठों पे मगर हर्फ़ ए दुआ रहने दो..
मैंने रक्खी ही कहाँ आस वफ़ा की इससे,
मुझसे दुनिया ये ख़फ़ा है तो ख़फ़ा रहने दो..
आबले पाँवों में चेहरे पे शिकन भी लेकिन.
मेरी धड़कन में नामे ख़ुदा रहने दो..........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जुस्तजूऐ वस्ल को बिल्कुल हटा सकता नहीं
पैकरे तस्वीर को दिल से मिटा सकता नहीं
फिर फरेबे हुस्न ने अपना सबक दुहरा दिया
है यजीदी हुस्न तो पानी पिला सकता नहीं
फूट कर रोने लगेगा छेड़ मत नासूर को
लम्से नाजुक जख्म पर क्या तू लगा सकता नहीं
इस शहर का हर बशर अब हो गया है संग का
अब कोई शीशाऐ दिल में घर बना सकता नहीं
आंसुओं में बह गये सब हसरतो अरमां तो क्या
जख्म ले कर मुस्कुराना मैं भुला सकता नहीं
जिन्दगी की सब भरम को तोड़ दो ऐ जिन्दगी
सांस के बोझों को अब कांधा उठा सकता नहीं
हां गुनाहे इश्क मैं ने कर लिये मुझ को कबूल
सर कलम कर दो जुबां को चुप करा सकता नहीं
आबरूऐ इश्क मांगा और 'अखतर' कुछ नहीं
किस कदर बे आबरू हैं ये बता सकता नहीं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जो कभी न आया मुझे याद करके।
हर बार गया वो मुझे बर्बाद करके।

कभी भूल कर आ जाये मेरी मय्यत पे मेरे दोस्तों

तो उसे कहना बस अभी सोया है तुझे याद करके।।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जो कहते है इस आंधी में पर न तोला जायेगा,
जो इस बात पे खुश है हम से लब न खोला जायेगा ।
उन से कहो हम तुफानो से डरने वाले लोग नहीं,
क़ातिल को मरते दम तक क़ातिल ही बोला जायेगा ।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जो नहीं लड़ते वही तो हार जाते हैं
हौसले वाले तो बाज़ी मार जाते हैं

देखते रहने से क्या होगा रवानी को
जो उतर जाये वो दरिया पार जाते हैं

डर नहीं सकते लहर से या तूफानों से
जो समंदर में बिना पतवार जाते हैं

कोशिशें करते लगाते बंदिशे कितनी
इश्क में जुड़ ही दिलों के तार जाते हैं

हो भरोसा आपको जिसपे बहुत ज्यादा
पीठ में खंज़र वही तो मार जाते हैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जो भी आए हॆ नज़दीक ही बेठे हॆ तेरे..!

हम कहाँ तक तेरे पहलू से सरकते जाएँ...!!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

जो मेरा है वो तेरा भी अफ़साना हुआ तो
समझे थे जिसे अपना वो बेगाना हुआ तो,
क़स्बे की ज़ियारत का सफ़र करने चले हो
रस्ते में कहीं कोई सनम-ख़ाना हुआ तो,
तुम क़त्ल से बचने का जतन ख़ूब करो हो
क़ातिल का अगर लहज़ा शरीफ़ाना हुआ तो,
कम ज़र्फ़ को इतनी न मुहब्बत से पिलाओ
लबरेज़ अगर वक़्त का पैमाना हुआ तो,
'बेकल' ने तुझे दुश्मन-ए-जानी ही कहा है
तुझ से जो अचानक कहीं याराना हुआ तो..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता

इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता

ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता

के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता …

हिंदी शायरी लिखा हुआ

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता ……..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ठोकर ना लगा मुझे पत्थर नही हूँ मैं हैरत से ना देख कोई मंज़र नही हूँ मैं
उनकी नज़र में मेरी कदर कुछ भी नही मगर उनसे पूछो जिन्हें हासिल नही हूँ मैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ढूंढा करोगे हर किसी में मुझको, देखना वो मंजर भी आएगा ..
हम याद भी आएंगे और आँखों में समंदर भी आएगा ...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तन्हाई ना पाए कोई साथ के बाद,
जुदाई ना पाए कोई मुलाकात के बाद,
ना पड़े किसी को किसी की आदात इतनी,
कि हर सांस भी आए उसकी याद के बाद..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तमन्ना हो मिलने की तो,
बंद आँखों मे भी नज़र आएँगे,
महसूस करने की कोशिश तो कीजिए,
दूर होते हुए भी पास नज़र आएँगे !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तस्वीरों से हकीकत बयां नहीं होती,
💕💕
💕💕
कुछ राज तो अक्सर दिलों में ही दफन रहते है !!___________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तीरगी कर दें फ़ना संसार से ,
हम मुसलसल रौशनी के वार से .
कितने ही राजा भिकारी हो गये,
कौन बच पाया समय की मार से .
टूटने दीजे न मन का हौसला,
हार हो जाती है मन की हार से .
अपना ही दुखड़ा सुनाने लग गये;
हाल कुछ पूछा नहीं बीमार से .
ठान ली तो तय हुये सब रास्ते ,
लग रहे थे जो बड़े दुश्वार से.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम नीचे गिर के देखो...
कोई नहीं आएगा उठाने...!!!
..
तुम जरा उडक़र तो देखो...
सब आयेंगे गिराने.....!!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम वजह वो.. जिसके लिए, मेरी आँखों में
शर्म मैं देखना चाहूँ

तुम ख़्वाब वो.. जिसके लिए मैं ता'उम्र, सोना चाहूँ

तुम शिद्दत वो.. जिसके लिए मैं जान, लुटाना चाहूँ .

तुम साहिल उन काली आँखों का, जिनका सागर मैं
होना चाहूँ !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम शब्दों की जादूगर हो,
मै ख़ामोशी का सौदागर हू,
तुम ने जब चाहा, जो चाहा, कह दिया,
मै हर बार, हर बात हंस कर सह गया। 🍃🍃

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुमको समझाता हूँ इसलिए ए दोस्त;
क्योंकि सबको ही आज़मा चुका हूँ मैं;
कहीं तुमको भी पछताना ना पड़े यहाँ;
कई हसीनों से धोखा खा चुका हूँ मैं।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुमने क्या सोचा कि तुम्हारे सिवा कोई नही मुझेचाहने वाला..

पगली छोङ कर तो देख, मौत तैयार खङी है मुझे अपने सीने लगाने के लिए..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुमने जब भी कसमें तोड़ी ,
मैंने तो बस गिला किया

उतना भी मैं बुरा नहीं हूँ
जितना तुमने जता दिया...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम्हारा दबदबा ख़ाली तुम्हारी ज़िंदगी तक है,
💕💕
💕💕
क़ब्र के अन्दर किसीकी ज़मींदारी नहीं चलती !!____________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम्हारी आँखों में बसा है आशियाना मेरा,अगर ज़िन्दा रखना चाहो तो कभी आँसू मत लाना।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम्हारे प्यार की दास्तां हमने अपने दिल में लिखी है,
न थोड़ी न बहुत बे-हिसाब लिखी है,
किया करो कभी हमे भी अपनी दुआओं में शामिल,
हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम्हारे प्यार में हम बैठें हैं चोट खाए!
जिसका हिसाब न हो सके उतने दर्द पाये!
फिर भी तेरे प्यार की कसम खाके कहता हूँ!
हमारे लब पर तुम्हारे लिये सिर्फ दुआ आये!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तुम्हारे हुस्न का जलवा नक़ाब में क्यों है
ये काँटा सा लगा है तो गुलाब में क्यों है
******
वो ख्वाब में तो बहुत ही हसीन लगती है
मुझे मिले भी सही मेरे ख्वाब में क्यों है
******
हमारे वास्ते वो फूल जो खरीदा था
मगर वो फूल अभी तक किताब में क्यों है
******
जो पाता है वो उसी को हो जाता है जाना
कुछ इस तरह का नशा भी शराब में क्यों है
******
वो रूठ जाए मनाना बहुत ही मुश्किल है
खुदा ही जाने ये नखरें ज़नाब में क्यों है
******
अगर तू चाहे तो दिल से निकाल दो मुझको
मगर ये नफरतें तेरे जवाब में क्यों है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तू इन बूढ़े दरख़्तों की हवाएँ साथ रख लेना
सफ़र में काम आयेंगी दुआएँ साथ रख लेना

हँसी बच्चों की, माँ का प्यार और मुस्कान बीवी की
तू घर से जब चले तो ये दवाएँ साथ रख लेना

सफ़र कितना भी मुश्किल हो वो फिर मुश्किल नहीं होगा
तू थोड़े हौसले बस दायें-बायें साथ रख लेना

बिछुड़ता देखकर तुझको जो घिरकर भी नहीं बरसीं
तू उन कजरारी आँखों की घटाएँ साथ रख लेना

कहीं भी तू रहे तेरे हमेशा काम आयेंगी
तू थोड़ी नेकियाँ, थोड़ी वफ़ाएँ साथ रख लेना

खताएँ दूसरों की जब कभी तू ढूढ़ने निकले
तू सबसे पेशकर अपनी खताएँ साथ रख लेना

मैं जब घर से चला, काँटो घिरे कुछ फूल यूँ बोले
ग़मों में मुस्कराने की अदाएँ साथ रख लेना......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तू किस अधिकार से चरखे से
फोटो जोड़ आया था?
वो बैरिस्टर बड़े घर का
सभी कुछ छोड़ आया था।

कभी कुर्ता तेरा मैला,
और अब है, सूट लाखों का,
वो धोती बांध कर; रूह-ए-वतन
झनझोड़ आया था।

गरीबों के लहू से
हाथ रंगे हैं तेरे, अब तक,
अहिंसक रहके वो
फौज-ए-फिरंगी मोड़ आया था।

तेरी सियासत की रोटी
सिकती है दंगे भड़कने पर,
वो दंगे रोकने को
रोटी-पानी छोड़ आया था।

तेरी बातों से सदियों के
बने रिश्ते बिखरते हैं,
वो गंगा और जमुना के
किनारे जोड़ आया था।

अकड़ की इन्तेहां देखो
के नपवाता है छाती तक,
वो दुर्बल-सा, गुरूर-ए-तख्त-ए-शाही
तोड़ आया था।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तू तब आना जब हम *सिमरन* में हो,

ऐ मौत,

तुझे *आने* में मज़ा आये और हमे *जाने* में मज़ा आये.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरा नाम था आज किसी अजनबी की जुबान पे…
बात तो जरा सी थी पर दिल ने बुरा मान लिया..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरी दुआ से कज़ा तो बदल नहीं सकती,
मगर है इस से यह मुमकिन कि तू बदल जाये,
तेरी दुआ है कि हो तेरी आरज़ू पूरी,
मेरी दुआ है तेरी आरज़ू बदल जाये।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरी याद में आंसुओं का समंदर बना लिया तन्हाई के शहर में अपना घर बना लिया सुना है लोग पूजते हैं पत्थर को इसलिए तुझसे जुदा होने के बाद दिल को पत्थर बना लिया !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरी हर बात मोहब्बत में...

तेरी हर बात मोहब्बत में गंवारा करके;
दिल के बाज़ार में बैठे हैँ ख़सारा करके;

एक चिंगारी नज़र आई थी बस्ती में उसे;
वो अलग हट गया आँधी को इशारा करके;

मुन्तज़िर हूँ कि सितारों की ज़रा आँख लगे;
चाँद को छत पे बुला लूँगा इशारा करके;

मैं वो दरिया हूँ कि हर बूँद भंवर है जिसकी;
तुमने अच्छा ही किया मुझसे किनारा करके।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरे और मेरी मोहब्बत में बस 1 फर्क होगा सनम।।
तेरी कभी अधूरी नहीं होगी । और मेरी कभी पूरी नहीं होगी।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरे सीने से लग कर तेरी आरज़ू बन जाऊँ,
तेरी सांसों से मिलकर तेरी खुशबू बन जाऊँ,
फासले न रहें कोई हम दोनों के दरम्यान,
मैं, मैं न रहूँ… बस तू ही तू बन जाऊँ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तेरे हाथ की मैं वो लकीर बन जाऊं,,

सिर्फ मैं ही तेरा मुकद्दर तेरी तक़दीर बन जाऊं,,,

इतना चाहूँ मैं तुम्हें कि तू हर रिश्ता भूल जाये,,,

और सिर्फ मैं ही तेरे हर रिश्ते की तस्वीर बन जाऊं !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

तक़दीर लिखने वाले एक एहसान करदे,
मेरे दोस्त की तक़दीर मैं एक और मुस्कान लिख दे,
न मिले कभी दर्द उनको,
तू चाहे तो उसकी किस्मत मैं मेरी जान लिख दे.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

थक जाते हैं ख्यालात भी

ज़हन मे आ आ कर मेरे

कहते हैं मुझसे ....

"कमबख्त कितना प्यार है तुझे उससे"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

थोडा सब्र तो कर, #तेरी_आँखो में मेरे लिये
भी मोहब्बत झलकेगी
अभी तो शुरुआत हुयी हे, आगे देख
दिल नही जान भी देने को
तरसेग
......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दरवाज़ों पे खाली तख्तियां अच्छी नहीं लगती,
मुझे उजड़ी हुई ये बस्तियां अच्छी नहीं लगती !

चलती तो समंदर का भी सीना चीर सकती थीं,
यूँ साहिल पे ठहरी कश्तियां अच्छी नहीं लगती !

खुदा भी याद आता है ज़रूरत पे यहां सबको,
दुनिया की यही खुदगर्ज़ियां अच्छी नहीं लगती !

उन्हें कैसे मिलेगी माँ के पैरों के तले जन्नत,
जिन्हें अपने घरों में बच्चियां अच्छी नहीं लगती !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दर्द दे गए सितम भी दे गए;
ज़ख़्म के साथ वो मरहम भी दे गए;
दो लफ़्ज़ों से कर गए अपना मन हल्का;
और हमें कभी ना रोने की कसम दे गए।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दर्द से हाथ न मिलाते तो और क्या करते,
गम के आंसू न बहते तो और क्या करते,
उसने मांगी थी हमसे रौशनी की दुआ,
हम खुद को न जलाते तो और क्या करते!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिये राहों मे मेरी कब जले हैं
मुसलसल तीरगी के सिलसिले हैँ।
बहा है खूने दिल अपना कि या फिर
तुम्हारी याद के सूरज ढले हैँ।
नहीं हो अजनबी मेरे लिए तुम
कभी हम ख्वाब मे शायद मिले हैँ।
कभी तो आस्माँ को ये भी छू लें
ये नन्हे ख्वाब जो दिल मे पले हैं।
वो संगे दिल पिघलते ही नहीं हैँ
हमीं हिमखंड बन अक्सर गले हैँ।
क्यों जख्मे दिल मेरे रहते हैँ ताज़ा
ये अश्कों से मेरे हर दिन धुले हैँ।
गुलों से ही मिली है चोट हमको
कि खारों से तो हम बच कर चलें हैँ।
जो बोए बीज करमों के कभी थे
वही तो जींस्त मे सबकी फले हैँ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल की हर बात ज़माने को बता देते है,
अपने हर राज़ से परदा उठा देते है;
चाहने वाले हमे चाहें या ना चाहें दोस्तों,
पर हम जिसे चाहते है उस पर जान लुटा देते है.........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल के हर कोने में बसाया है आपको,
अपनी यादों में हर पल सजाया है आपको,
यकीं न हो तो मेरी अॉखों में देख लीजिये,
अपने अश्कों में भी छुपाया है आपको।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल चाहता है कि फ़िर,अजनबी बन कर देखें,
तुम तमन्ना बन जाओ,हम उम्मीद बन कर देखें

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल में बसे हो जरा ख्याल रखना

अगर वक़्त मिलजाए तो याद करना

हमें तो आदत है तुम्हें याद करने की

_
तुम्हें बुरा लगे तो माफ़ करना

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल से दिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं
जैसे तूफान में किनारे मुश्किल से मिलते हैं
अजी मिलने को तो बहुत मिल जाते हैं गोरे गाल
लेकिन गोरे गाल पर तिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे! यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे! वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का! और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दुनियाँ की हर चीज…
ठोकर लगने से टूट जाया करती है.

एक कामयाबी ही है…
जो ठोकर खा के ही मिलती है …!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

देख पालकी जिस दुल्हन की
बहक गया हर एक बाराती
जिसके द्वार उठेगा घूंघट
जाने उस पर क्या बितेगी
एक रोज सपने मे छूकर
तन मन चन्दनवन कर डाला
जो हर रोज छुआ जायेगा
उस पागल पर क्या बितेगी!!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

देखकर एड़ियाँ उस की
दिल में सवाल ही सवाल है
रुखसार का क्या हाल होगा...
जिसकी एड़ियाँ इतनी लाल है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

देखा तो था यूं ही...

देखा तो था यूं ही किसी ग़फ़लत-शिआर ने;
दीवाना कर दिया दिल-ए-बेइख़्तियार ने;

ऐ आरज़ू के धुंधले ख्वाबों जवाब दो;
फिर किसकी याद आई थी मुझको पुकारने;

तुमको ख़बर नहीं मगर इक सादालौह को;
बर्बाद कर दिया तेरे दो दिन के प्यार ने;

मैं और तुमसे तर्क-ए-मोहब्बत की आरज़ू;
दीवाना कर दिया है ग़म-ए-रोज़गार ने;

अब ऐ दिल-ए-तबाह तेरा क्या ख्याल है;
हम तो चले थे काकुल-ए-गेती सँवारने।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है,
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है,
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना,
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है...!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

न जाने कब कोई अपना रुठ जाये
न जाने कबकोई अश्क आँखों से छूटजाये
कुछ पल हमारे साथभी मुस्कुरा लिया करो ऐ दोस्त
न जाने कब तुम्हारे दांत टूटजाये😜

हिंदी शायरी लिखा हुआ

न मिले किसी का साथ तो हमें याद करना,
तन्हाई महसूस हो तो हमें याद करना....,
खुशियाँ बाटने के लियें दोस्त हजारो रखना,
जब ग़म बांटना हो तो हमें याद करना .....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

न वो आ सके न हम कभी जा सके!
न दर्द दिल का किसी को सुना सके!
बस बैठे है यादों में उनकी!
न उन्होंने याद किया और न हम उनको भुला सके!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

न वो सपना देखो जो टूट जाये;
न वो हाथ थामो जो छूट जाये;
मत आने दो किसी को करीब इतना;
कि उसके दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

न समझो के हमने आपको भुला रखा है
आप नही जानते के दिल में छुपा रखा है
देखते रहे तुम्हें उमर भर इन आंखों में
इसलिए नज़रों के सामने आइना लगा रखा है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नजर और नसीब के मिलने का इत्तफाक कुछ ऐसा है कि,
नजर को पसंद हमेशा वही आता है ,जो नसीब मे नही होता…!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नजरअंदाज करने वाले
तेरी कोई ख़ता ही नही

महोब्बत क्या होती है
शायद तुझको पता ही नही...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नज़र फ़रेब-ए-कज़ा खा गई तो क्या होगा;
हयात मौत से टकरा गई तो क्या होगा;

नई सहर के बहुत लोग मुंतज़िर हैं मगर;
नई सहर भी कजला गई तो क्या होगा;

न रहनुमाओं की मजलिस में ले चलो मुझको;
मैं बे-अदब हूँ हँसी आ गई तो क्या होगा;

ग़म-ए-हयात से बेशक़ है ख़ुदकुशी आसाँ;
मगर जो मौत भी शर्मा गई तो क्या होगा;

शबाब-ए-लाला-ओ-गुल को पुकारनेवालों;
ख़िज़ाँ-सिरिश्त बहार आ गई तो क्या होगा;

ख़ुशी छीनी है तो ग़म का भी ऐतमाद न कर;
जो रूह ग़म से भी उकता गई तो क्या होगा।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नया दर्द एक और दिल में जगा कर चला गया​;​
​​ कल फिर वो मेरे शहर में आकर चला गया​;​
​​ जिसे ढूंढ़ता रहा मैं लोगों ​की भीड़ में;​
​​ मुझसे वो अप​ने आप ​को छुपा कर चला गया।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नसिबके के खेल भी अजीब होते हैं,
सच्चे दिल वालो को आँसू ही नसीब होते हैं.
कौन होना चाहता है आपनो से दूर,
पर अक्सर छूट जाते है जो करीब होते हैं.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ना दिल से होता है, ना दिमाग से होता है; ये प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है; पर प्यार करके प्यार ही मिले; ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी-किसी के साथ होता है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ना दूर हमसे जाया करो दिल तड़प जाता है आपके ख्यालों में ही हमारा दिन गुज़र जाता है पूछता है यह दिल एक सवाल आपसे कि क्या दूर रहकर भी आपको हमारा ख्याल आता है!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ना वादा है और ना कोई क़समें है....

फिर भी यह दिल तेरी ही मोहब्बत के बस में है..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

निभाते नहीं है
लोग आजकल...!

वरना...

इंसानियत से बड़ा
रिश्ता कौन सा है...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

निशाते हाल से बे फिक्रे मुस्तकबिल ना हो जाना,
खुद अपने हाथ अपनी ज़ात के क़ातिल ना हो जाना,

कभी दामने-साहिल में भी क़श्ती डुब जाती हे,
निकल कर हल्का ऐ गर्दाब से गाफिल ना हो जाना,

वक़ारे-ज़ात का इतना भरम रखना मोहब्बत मे,
करम की हद से बढ के रहम के क़ाबिल ना हो जाना,

नज़र तो जुस्तुजू मे खुद हिजाबे जल्वा होती हे,
कहीं राहे तलब मे बेनियाज़े दिल ना हो जाना,

तेरी हस्ती ना जब तक मुन्फरिद एक ज़ात बन जाऐ,
हुजुमे कारगाहे दहर मे शामिल ना हो जाना,

बज़ुज़ हुस्ने नज़र "बज़्मी" नही कुछ भी पसे पर्दा ,
खुदा रा बन्दा ऐ नेरंगीऐ महमिल ना हो जाना........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नींद और निंदा पर जो व्यक्ति विजय पा लेते है,
उन्हें आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नींद की ओस से...

नींद की ओस से पलकों को भिगोये कैसे;
जागना जिसका मुकद्दर हो वो सोये कैसे;

रेत दामन में हो या दश्त में बस रेत ही है;
रेत में फस्ल-ए-तमन्ना कोई बोये कैसे;

ये तो अच्छा है कोई पूछने वाला न रहा;
कैसे कुछ लोग मिले थे हमें खोये कैसे;

रूह का बोझ तो उठता नहीं दीवाने से;
जिस्म का बोझ मगर देखिये ढोये कैसे;

वरना सैलाब बहा ले गया होगा सब कुछ;
आँख की ज़ब्त की ताकीद है रोये कैसे।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नज़र नवाज़ नज़रों में ज़ी नहीं लगता

फ़िज़ा गई तो बहारों में ज़ी नहीं लगता

ना पूछ मुझसे तेरे ग़म में क्या गुजरती है

यही कहूंगा हज़ारों में ज़ी नहीं लगता !!💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

नज़र नवाज़ नज़रों में ज़ी नहीं लगता फ़िज़ा गई तो बहारों में ज़ी नहीं लगता ना पूछ मुझसे तेरे ग़म में क्या गुजरती है यही कहूंगा हज़ारों में ज़ी नहीं लगता !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं,
वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो,
और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पलकों में आँसु और दिल में दर्द सोया है,
हँसने वालो को क्या पता, रोने वाला किस कदर रोया है,

ये तो बस वही जान सकता है मेरी तनहाई का आलम,
जिसने जिन्दगी में किसी को पाने से पहले खोया है..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पलभर की भी तन्हाई तुम्हें नसीब ना हो,
कोई भी गम तुम्हारे करीब ना हो,
रब तुम्हारी ज़िन्दगी में इतनी खुशियाँ दे,
कि तुमसे बढ़कर कोई खुशनसीब ना हो..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पहले इश्क़ को आग होने दीजिए
फिर दिल को राख होने दीजिए

तब जाकर पकेगी बेपनाह मोहब्बत
जो भी हो रहा बेहिसाब होने दीजिए

सजाएं मुकर्रर करना इत्मिनान से
मगर पहले कोई गुनाह होने दीजिए

मैं भूला नहीं बस थोड़ा थक गया था
लौट आऊंगा घर शाम होने दीजिए

चाँद के दीदार की चाहत दिन में जगी है
आयेगा नज़र वो, रात होने दीजिए

जो सरिताएं सूख गयी हैं इंतज़ार में
वो भी भरेंगी बस बरसात होने दीजिए

नासमझ, पागल, आवारा, लापरवाह हैं जो
संभल जाएंगे वो भी एहसास होने दीजिए

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पहले भी सबने सुनी है मगर इस तरह नहीं
मैंने ये बात कही है मगर इस तरह नहीं...
.
मेरे गिरने की जो अफ़वाहें हैं झूठी हैं सभी,
हाँ मुझे चोट लगी है मगर इस तरह नहीं....
.
रोज़ मर जाया करें रोज़ ही जी जाया करें,
ज़िन्दगी रोज़ नयी है मगर इस तरह नहीं...
.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार कमजोर दिल से किया नहीं जा सकता!
ज़हर दुश्मन से लिया नहीं जा सकता!
दिल में बसी है उल्फत जिस प्यार की!
उस के बिना जिया नहीं जा सकता!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार के उजाले में गम का अंधेरा क्युँ है, जिसको हम चाहें वही रूलाता क्युँ है, मेरे रबा अगर वो मेरा नसीब नही तो.. ऐसे लोगों से हमें मिलाता क्युँ है..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार को कमज़ोरी नहीं ताकत बनाओ
रिश्तो को मज़बूरी नहीं इबादत बनाओ
ज़िंदगी सिर्फ जीने से क्या होगा
हर पल हर लम्हे को अपनी कोशिश से जन्नत बनाओ ...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार क्या होता है हम नहीं जानते,
ज़िन्दगी को हम अपना नहीं मानते,
गम इतने मील के एहसास नहीं होता,
कोई हमें प्यार करे अब विश्वास नहीं होता.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार तो हम दोनों ने किया था,
💕💕
💕💕
मैंने बहुत किया था और उसने बहुतों से किया था !!___________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार ना दिल से होता है ना दिमाग से होता है,
प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है,h
मगर प्यार करके प्यार ही मिले
ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी किसी के साथ होता है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यार व्यार कुछ नही होता है ! जो जिसके ज्यादा करीब रहता है ! वो उसका हो जाता है !! जिस दिन बंद कर ली हमने आंखें, कई आँखों से उस दिन आंसु बरसेंगे, जो कहते हैं के बहुत तंग करते है हम, वही हमारी एक शरारत को तरसेंगे.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

प्यास अगर शराब की होती... तो ना आता तेरे मैखाने मे....
:
ये जो तेरी नज़रो का जाम है कम्बख्त कही और मिलता ही नही.......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

पढ़ रहा था मोहब्बत की किताबो को,
💕💕
💕💕
पहले पन्ने में इश्क़ दिखा बाकी में बेवफाई !!__________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

फकीरों की सोहबत में
बैठा कीजिए साहब,

बादशाही का अंदाज
खुद ब खुद आ जायेगा....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

फख्र से इस जुर्म का इकरार होना चाहिए
इश्क है तो इश्क का इजहार होना चाहिए

इस जहाँ में कोई ग़म ख्वार होना चाहिए
सबके दिल में प्यार ही बस प्यार होना चाहिए

तेज़ चलने के लिए मुझसे ही क्यूं कहते है आप
आप को भी कुछ तो कम रफ़्तार होना चाहिए

ग़मज़दा देखे मुझे और हंस पड़े बेसाख्ता
क्या भला ऐसा किसी का यार होना चाहि

उफ़ तेरा तिरछी नज़र से मुझे यूँ देखना
तीर नज़रों का जिगर के पार होना चाहिए

खुद परस्ती हर तरफ हैं क्यों 'सिया'
न किसी की राह में दीवार होना चाहिए

हिंदी शायरी लिखा हुआ

फिर ना किजीएगा मेरी गुस्ताख निगाहों का गिला ""

देखिए आपने फिर आज प्यार से देखा मुझे""

हिंदी शायरी लिखा हुआ

फूल तो कई है यहाँ,
मगर वो महक कही छुप गयी;
यार तो बहुत है यहाँ,
मगर वो दोस्ती कही छुप गयी;
इश्क़ में धोखा क्या मिला हमें,
लगता है हमारी दीवानगी कही छुप गयी;

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बख्शे हम भी न गए बख्शे तुम भी न जाओगे,
💕💕
💕💕
वक्त जानता है हर चेहरे को बेनकाब करना !!___________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बदलते हुऐ लोगो के बारे मे
आखिर क्या कहुँ मे.....
मैने तो अपना ही प्यार किसी
और का होते देखा है..... ______________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बनकर एहसास मेरी धड़कन के पास रहती हो बनकर तस्वीर मेरी आंखो के पास रहती हो एक बात तो बताओ आज पूछता हूं तुमसे क्या मेरे बिना तुम भी उदास रहती हो !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बनकर दोस्त इस दिल में उतर गए
आकर पास खूबसूरत एहसास बन गए
मेरी हर नींद का ख़्वाब बन गए
मेरी हर सुबह का पहला ख्याल बन गए
कभी खत्म ना हो वो इंतज़ार बन गए
मुकम्मल हो न पाये वो अरमान बन गए
दूर जिससे एक पल भी रहा न जाये
इस दिल की तुम वो जान बन गए

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बहार की थी मगर ,रुत वो हम पे भारी थी
तेरे बग़ैर कभी हम ने जो गुज़ारी थी

फिर उसके बाद कभी भी बुरी नज़र न लगी
कि माँ ने ऐसी हमारी नज़र उतारी थी

निहत्थे लोगों पे हमला बहादुरी है तो फिर
"वो जंग तुम भी न जीते जो हमने हारी थी"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बहुत नजदीक हो के भी वो इतना दूर है मुझसे,

इशारा हो नहीं सकता…पुकारा जा नहीं सकता….

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बिताए हुए कल में आज को ढूँढता हूँ सपनों में सिर्फ आपको देखता हूँ क्यों हो गए आप मुझसे दूर यह सोचता हूँ तन्हा यारों से छुपकर रोता हूँ !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बिन बुलाये किसी के घर जाया नहीं करते महफिल में इश्क बहाया नहीं करते आज फिर उन्ही के आने का करार है देव वर्ना किसी के इंतजार में राहे यूँ सजाया नहीं करते

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेखुदी को उभार देती है
गम की दुनिया सवार देती है
जाने क्या चीज है मोहब्बत भी
जिंदगी को निखार देती है.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेनाम सा यह दर्द

बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नही जाता;
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नही जाता;

सब कुछ तो है क्या ढूँढती रहती हैं निगाहें;
क्या बात है मैं वक्त पे घर क्यूं नही जाता;

वो एक ही चेहरा तो नही सारे जहाँ मैं;
जो दूर है वो दिल से उतर क्यों नही जाता;

मैं अपनी ही उलझी हुई राहों का तमाशा;
जाते है जिधर सब मैं उधर क्यूं नही जाता;

वो नाम जो बरसों से न चेहरा है न बदन है;
वो ख्वाब अगर है तो बिखर क्यूं नही जाता;

जो बीत गया है वो गुज़र क्यूं नही जाता;
बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नही जाता।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नही जाता;
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नही जाता;
वो एक ही चेहरा तो नही सारे जहाँ मैं;
जो दूर है वो दिल से उतर क्यों नही जाता।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेशक थोड़ा इंतज़ार मिला हमको...
पर दुनिया का सबसे हँसी यार मिला हमको...
न रही तमन्ना अब किसी जन्नत की,
तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेहतर से बेहतर की तलाश करो,

मिल जाए नदी तो समंदर की तलाश करो,

टूट जाते हैं शीशे पत्थरों की चोट से,

टूट जाये पत्थर ऐसे शीशे की तलाश करो. ___________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

बेहतर से बेहतर की तलाश करो,
मिल जाये नदी तो समंदर की तलाश करो,
टूट जाते हैं शीशे पत्थरों की चोट से,
टूट जाये पत्थर ऐसे शीशे की तलाश करो.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

भरी महफ़िल में कर रहे थे वो ज़िक्र अपनी वफ़ा का..
नज़र मुझ पर क्या पड़ी कमबख्त ने बात ही पलट दी..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

भूल जाने का हौसला ना हुआ दूर रह कर भी वो जुदा ना हुआ उनसे मिल कर किसी और से क्या मिलते कोई दूसरा उनके जैसा ना हुआ!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मत रख हमसे वफा कि उम्मीद,
हमने हर दम बेवफाई पाई हे.
मत धुंढ हमारे जिस्म पे ज़ख्मो के निशान,
हम ने हर चोट दिल पे खाई हे.

💔💔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मलाल है, मगर इतना मलाल थोड़ी है;
*ये आँख, रोने की शिद्दत से लाल थोड़ी है!*

बस अपने वास्ते ही, फ़िक्रमंद हैं सब लोग;
*यहाँ किसी को, किसी का ख़याल थोड़ी है!*

परों को काट दिया है, उड़ान से पहले;
*ये ख़ौफ़े हिज्र है, शौक़े विसाल थोड़ी है!*

मज़ा तो जब है के, तुम हार के भी हँसते रहो;
*हमेशा जीत ही जाना, कमाल थोड़ी है;*

लगानी पड़ती है डुबकी, उभरने से पहले;
*ग़ुरूब होने का मतलब, ज़वाल थोड़ी है!*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मस्त हर वक़्त वो संनदल की तरहा रहता है
यानी उडते हुये बादल की तरहा रहता है
उसकी बातो पे मै किस तरहा
भरोसा करलू
होश मे रहे कर भी पागल की तरह रेहता है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

महफ़िल में हँसना हमारा मिजाज बन गया,
तन्हाई में रोना एक राज बन गया,
दिल के दर्द को चेहरे से जाहिर न होने दिया,
बस यही जिंदगी जीने का अंदाज बन गया।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मिर्ज़ा ग़ालिब-शिकवा,
ज़ाहिद शराब पीने दे मस्जिद मे बैठकर,
या वो जगह बता जहाँ खुदा नही ।
अल्लामा इक़बाल -जवाब शिकवा
मस्जिद खुद का घर है,पीने की जगह नहीं
काफ़िर के दिल मे जा वहां खुद नही ।
अहमद फ़राज़-जवाब शिकवा,
काफ़िर के दिल से आया हूँ मै ये देखकर,
खुदा मौजूद है वहां पर उसे पता नहीं ।
❤❤❤❤❤

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मिलना इतिफाक था बिछड़ना  नसीब था
वो उतना ही दूर  हो गया जितना करीब था
हम उसको देखने क लिए तरसते ही  रहे
जिस शख्स  की हथेली पे हमारा नसीब था !!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुझ से दूरियां बना कर तो देखो,,



फिर पता चलेगा कितना नज़दीक़ हूँ मै.

काश के कभी तुम समझ जाओ,
मेरी मोहब्बत की इन्तेहा को,



हैरान रह जाओग तुम अपनी खुशकिस्मती पे !!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुझे बताओ यारो यह कैसी बस्ती है
जहां हयात के पर्दे पर मौत पलती है
किसी के पांव तो पढ़ते हैं फर्शी मखमल पर
किसी की लाश कफन के लिए तरसती है
खुदा के घर को गिराते हैं और कहते हैं
सदा बुलंद करो राम की यह बस्ती है
इन्हें न खौफ ए खुदा है ना आदमी का ख्याल
इन के निजाम में इंसानियत तरसती है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुझे बहुत प्यारी है, तुम्हारी दी हुई हर एक निशानी...

चाहे वो दिल का दर्द हो या आँखों का पानी....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुझे मालूम है तुमने बहुत बरसातें देखी है,
मगर मेरी इन्हीं आँखों से सावन हार जाता है…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुझे हराकर कोई मेरी जान भी ले जाए मुझे मंजुर है..!!



लेकिन धोखा देने वालों को मै दुबारा मौका नही देता..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मुलाक़ातें तो आज भी हो जाती है तुमसे..ख़्वाब किसी “ताले” के मोहताज नही हैं..


तेरी आँखों से यू तो सागर भी पिए हैं मैने..तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरा इल्ज़ाम है तुझ पर कि तू बेवफा था;
दोष तो तेरा था मगर तू हमेशा ही खफा था;
ज़िन्दगी की इस किताब में बयान है तेरी मेरी कहानी;
यादों से सराबोर उसका एक एक सफा था।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरा ये ख़्वाब कि तुम मेरे क़रीब आई हो
अपने साए से झिझकती हुई घबराती हुई
अपने एहसास की तहरीक पे शरमाती हुई
अपने क़दमों की भी आवाज़ से कतराती हुई
अपनी साँसों के महकते हुए अंदाज़ लिए
अपनी ख़ामोशी में गहनाए हुए राज़ लिए
अपने होंटों पे इक अंजाम का आग़ाज़ लिए
दिल की धड़कन को बहुत रोकती समझाती हुई
अपनी पायल की ग़ज़ल-ख़्वानी पे झल्लाती हुई
नर्म शानों पे जवानी का नया बार लिए
शोख़ आँखों में हिजाबात से इंकार लिए
तेज़ नब्ज़ों में मुलाक़ात के आसार लिए
काले बालों से बिखरती हुई चम्पा की महक
सुर्ख़ आरिज़ पे दमकते हुए शालों की चमक
नीची नज़रों में समाई हुई ख़ुद्दार झिजक
नुक़रई जिस्म पे वो चाँद की किरनों की फुवार
चाँदनी रात में बुझता हुआ पलकों का सितार
फ़र्त-ए-जज़्बात से महकी हुई साँसों की क़तार
दूर माज़ी की बद-अंजाम रिवायात लिए
नीची नज़रें वही एहसास-ए-मुलाक़ात लिए
वही माहौल वही तारों भरी रात लिए
आज तुम आई हो दोहराती हुई माज़ी को
मेरा ये ख़्वाब कि तुम मेरे क़रीब आई हो
काश इक ख़्वाब रहे तल्ख़ हक़ीक़त न बने
ये मुलाक़ात भी दीवाने की जन्नत न बने

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी आँखों में झाँकने से पहले
जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर...

जो हमने पलके झुका ली तो
कयामत होगी...।

और हमने नजरें मिला ली तो
मुहब्बत होगी..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी आँखों में पढ़ लेते हैं
लोग तेरे इश्क़ की आयतें...

किसी में इतना बस जाना भी
अच्छा नहीं होता ♥...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी तमाम 'उलझने' सुलझ जाती है..!!
जब मेरी उँगलियाँ,
तेरी उँगलियों में उलझ जाती हैं....!!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी दुनियाँ है तुझ में कही
तेरे बिन मैं क्या, कुछ भी नहीं
मेरी जान में तेरी जान है, ओ साथी मेरे

पलकों में तेरे रूप का सपना सजा दिया
पहली नजर में ही तुझे, अपना बना लिया
है यही आरजू, हर घड़ी बैठी रहो मेरे सामने

ऐसा लगा मेरे सनम, हम जो यहाँ मिले
सहारा में जैसे शबनमी चाहत के गुल खिले
ये जमीन, आसमान, कह रहे, हम तो कभी ना होंगे जुदा

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी धड़कनों की रवानगी तेरा ही नाम दोहराती है..!!
ये रहती है मेरे सीने में तेरी सिफारिश लगाती है..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मेरी यादें, मेरा चेहरा, मेरी बातें रुलायेंगी,
हिज़्र के दौर में, गुज़री मुलाकातें रुलायेंगी,
दिन तो चलो तुम काट भी लोगे फसानों में,
जहाँ तन्हा रहोगे तुम, तुम्हें रातें रुलायेंगी

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मैं खुद से टूटकर भी तुझे चाहता रहा,
💕💕
💕💕
और तू मुझे तोड़कर किसी और को चाहती रही !!____________________💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मैंने दिल के दरवाजे पर चिपका दी है एक चेतावनी,
फ़ना होने का दम रखना तभी भीतर कदम रखना..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मोहब्बत के रास्ते कितने भी मखमली क्यो न हो

खत्म तन्हाई के कम्मबल मे ही होते है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मोहब्बत कौन करता है सियासत कौन करता है
मुझे मालूम है मेरी हिफाज़त कौन करता है

हम ही लोगो ने लाज़ रखी है बुजुर्गो कि यहाँ वरना
यहां सभी टुकड़ो पर पलते है बग़ावत कौन करता है.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है,

देकर वो आपकी आँखों में आँसू,अकेले में वो आपसे ज्यादा रोता है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

यदि कुँए में झुकने वाली बाल्टी बाहर आती है
तो भर कर कुछ ऐसा हि जीवन का गणित है
जो झुकता है वो पाता है दादागिरी तो हम
मरने के बाद भी करेंगे लोग पैदल चलेँगे और हम कंधो पर!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

याद करना और याद आना
दोनों अलग-अलग बातें है
याद हम उन्हें करते हैं
जो हमारे अपने है और याद हम उन्हें आते है
जो हमें अपना समझते है! !!!!!! M

हिंदी शायरी लिखा हुआ

याददाश्त का कमज़ोर होना...
बुरी बात नहीं है जनाब....

बड़े बेचैन रहते है वो लोग...
जिन्हे हर बात याद रहती है....✍🏻

हिंदी शायरी लिखा हुआ

यूँ झटके दे दे कर ना डराया कर ऐ_कुदरत....

ये इँसान है समझेगा ज़रूर सुधरेगा नहीं....

अपने होने का वो ऐसा भी पता देता है....

बस ज़मीनों को वो थोड़ा सा हिला देता हे....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

यूँ तो तमन्नाएं दिल में ना थी हमें लेकिन,

ना जाने तुझे देखकर क्यों आशिक़ बन बैठे,

बंदगी तो खुदा की भी करते थे लेकिन,

ना जाने क्यों हम काफ़िर बन बैठे. _______________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

यूँ पलके बिछा कर तेरा इंतज़ार करते है,
यह वो गुनाह है जो हम बार बार करते है,
जलकर हसरत की राह पर चिराग,
हम सुबह और शाम तेरे मिलने का इंतज़ार करते है.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

यूँ हर पल हमें सताया न कीजिये,
यूँ हमारे दिल को तड़पाया न कीजिये,
क्या पता कल हम हों न हों इस जहॉ में,
यूँ नजरें हमसे आप चुराया न कीजिये ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये किसने कह दिया तुमसे की इनका बम से रिश्ता है,
बहुत है जख्म सीने मे फक़त मरहम से रिश्ता है,,
वो तुम हो जो तिजारत करते हो बारूद की साहब,,,
ये है इमान वाले इनका जमजम से रिश्ता है...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये दर्द हम नसीबों में लिखाये बैठे हैं
फरेब हम कई दुनिया से खाये बैठे हैं
थे टुकड़े टुकड़े हुए ख्वाब सब तो आँखों के
वो ख्वाबों के टुकड़े दिल से लगाये बैठे हैं
सितारे तोड़ने आकाश के चला था दिल
शिकस्त की चोट अब दिल पे खाये बैठे हैं
तमाशे सब ये सनम खत्म प्यार के कर दो
ये दिल तो प्यार में कब से जलाये बैठे हैं
न जान पाये जमाना ये हार क्यों हुई
बेताब पैरों के छाले छुपाये बैठे हैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये दुनियाँ वाले भी बड़े अजीब होते है ,
कभी दूर तो कभी करीब होते ,
दर्द ना बताओ तो हमे कायर कहते ,
और दर्द बताओ तो हमे शायर कहते है !!

_____

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा

मैं खुद तन्हा रहा पर दिल को तन्हा नहीं रखा

तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज रखे हैं

तुम्हारी नफरतों की पीड़ को जिंदा नहीं रखा !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये मेरी शायरी ने भी कमाल कर दिया,

आज शायरी

सुनके उसने मुझसे कहा ...

मेरी जान ले लो मगर मुझे बेबफा ना कहो

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ये ज़िंदगी बिन तेरे भी कट जाएगी;
पर कुछ कमी तो जरुर रह जाएगी;
कल को तड़पाएगी तो कभी तरसाएगी;
हर लम्हा जब भी तेरी याद आएगी।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रहना तो चाहते थे साथ उनके,
पर इस ज़माने ने रहने ना दिया,
कभी वक़्त की खामोशी मे खामोश रहे,
तो कभी खामोशी ने कुछ कहने ना दिया!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रात को तनहाइयों के साथ घर जाता हूँ मैं
अपने ही अहसास की आहट से डर जाता हूँ मैं...

अपने हिस्से की जिन्हें मैं नींद आया सौंपकर
ग़म है अक़्सर उनके ख्वाबों में भी मर जाता हूँ मैं......

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रात यूं दिल में तेरी भुली याद आई जैसे वीरान में चुपके से बहार आजाये ।। जैसे शःरवो में चले बदे नसीब जैसे बीमार को बे वजहें करार आजाये ।। आज की बात फिर नहीं होंगी ये मुलाक़ात फिर नहीं होंगी एसे बदल तो फिर भी आएंगे एसी बर्शात फिर नहीं होंगी । एक नज़र मूड के देखने वाले क्या ये खैरात फिर नहीं होंगी उसके नजदीक दमे तर्क वफ़ा कुछ भी नहीं मूत मयिन ऐसे हे जैसे हुवा कुछ भी नहीं अब तो हांथो से लाकिरे भी मिटी जाती है अब तो मेरे पास रहा कुछ भी नहीं ।।।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रिश्तों से बड़ी चाहत क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा,
उसे ज़िंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रोज़ याद न कर पाऊँ तो
खुदग़रज़ ना समझ लेना,

दरअसल छोटी सी जिन्दगी है।
और परेशानियां बहुत हैं..!!

मैं भूला नहीं हूँ किसी को...
मेरे बहुत अच्छे दोस्त है ज़माने में ..

बस जिंदगी उलझी पड़ी है ..
दो वक़्त की रोटी कमाने में।. . .

हिंदी शायरी लिखा हुआ

रौशनी दरकार है पर लौ ज़रा मद्धम करो,
चाहिये तुमको ग़ज़ल तो ऑंख मेरी नम करो !!
देखकर पलकें मेरी कहने लगा कोई फक़ीर,
इनपे बरख़ुरदार सपनों का वज़न कुछ कम करो !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लडकियाँ 👩🏻 हमेशा उसे प्यार 💞
करती है जो उन्हे छोड 😔 देते है,
और उन्हे छोड 💘 देती है
जो सिर्फ 💝 उनसे प्यार 😒 करते है।
💔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लब पे नग़्मा सजा लिया हमने
ग़म को ऐसे छुपा लिया हमने
अब जो रूठे तो कौन आयेगा
ख़ुद ही ख़ुद को मना लिया हमने
नाम तेरा जुबां पे लाकर के
दर्द फिर से जगा लिया हमने
तुमको पाया तो इक ख़ज़ाना सा
दोनों हाथों से पा लिया हमने
घर में महफ़ूज़ ग़र नहीं औरत
ख़ुद को कितना गिरा लिया हमने

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लाख मिठाइयां चखी हो तुमने
मगर..
खुशी के आंशू का स्वाद सबसे मीठा है…

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लिपट जाता हूँ माँ से
और मौसी मुस्कुराती है

मैं उर्दू में ग़ज़ल कहता हूँ
हिन्दी मुस्कुराती है


तभी जा कर कहीं
माँ-बाप को कुछ चैन पड़ता है

कि जब ससुराल से
घरआ के बेटी मुस्कुराती है

चमन में सुबह का मंज़र
बड़ा दिलचस्प होता है

कली जब सो के उठती है
तो तितली मुस्कुराती है

हमें ऐ ज़िन्दगी तुझ पर
हमेशा रश्क आता है

मसायल से घिरी रहती है
फिर भी मुस्कुराती है

बड़ा गहरा तअल्लुक़ है
सियासत से तबाही का

कोई भी शहर जलता है
तो दिल्ली मुस्कुराती है.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लोग आईना कभी भी
ना देखते

अगर आईने में
चित्र के साथ
चरित्र भी दिखाई देता

हिंदी शायरी लिखा हुआ

लौट आता मै वापस तेरे पास...!!
मगर क्या फायदा...??

ना तेरे दिल में मेरे लिए मोहब्बत रही,
ना तुझे मेरी मोहब्बत की ज़रूरत रही..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वक्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,

कौन चाहता है अपने से दूर होना,
लेकिन वक्त सबको मजबूर कर देता है !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वफ़ा की ज़ंज़ीर से डर लगता है....
कुछ अपनी तक़दीर से डर लगता है....
जो मुझे तुझसे जुदा करती है....
हाथ की उस लकीर से डर लगता है.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वफ़ा के शीशमहल में सजा लिया मैनें,
वो एक दिल जिसे पत्थर बना लिया मैनें,

ये सोच कर कि न हो ताक में ख़ुशी कोई,
गमों की ओट में खुद को छुपा लिया मैनें,

कभी न ख़त्म किया मैंने रोशनी का मुहाज़,
अगर चिराग बुझा तो दिल जला लिया मैनें,

कमाल ये है कि जो दुश्मन पे चलाना था,
वो तीर अपने ही कलेजे पे खा लिया मैनें।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वही ताज है वही तख़्त है वही ज़हर है वही जाम है
ये वही ख़ुदा की ज़मीन है ये वही बुतों का निज़ाम है

बड़े शौक़ से मेरा घर जला कोई आँच न तुझपे आएगी
ये ज़ुबाँ किसी ने ख़रीद ली ये क़लम किसी की ग़ुलाम है

मैं ये मानता हूँ मेरे दिए तेरी आँधियोँ ने बुझा दिए
मगर इक जुगनू हवाओं में अभी रौशनी का इमाम है

​​​​​​​​

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो करीब बहुत है...मगर कुछ दूरियों के साथ...,
हम दोनों जी तो रहे है...पर बहुत सी मजबूरीयों के साथ...।'

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो कह के चले इतनी मुलाकात बहुत है
हमने कहा रूक जाओ अभी तो रात बहुत है
आंसू मेरे थम जाये तो शौक से चले जाना
ऐसे में कहा जाओगे अभी बरसात बहुत है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो तरस जाएँगी प्यार की एक बूँद के लिए..
मैं तो बादल हूँ किसी और पे बरस जाऊंगा..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि;
जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं;
कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने;
फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो मेरी किस्मत में नहीं,
ये सुना है लोगों से,
फिर सोचता हूँ,
किस्मत खुदा लिखता है लोग नहीं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो मेरे पास से गुजरे और मेरा हाल तक न पूछा,
हम कैसे यकीन करें, वो दूर जाकर रोये होंगे…!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

वो मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा के रोई ,
अब मे हूँ किसी और की ये मुझे बता के रोई ,
💔🌹
पहले कहती थी की नही जी सकती तेरे बिन ,
आज फिर से वो बात दोहरा के रोई ,
💔🌹
केसे कर लूँ उसकी मोहब्बत पे शक यारो ,
वो भरी महफिल मे मुझे गले लगा के रोई !!

💔🌹
__
_____

हिंदी शायरी लिखा हुआ

शहर धुँधला दिख रहा है लगता है आँखों में नमी है।



जिंदगी में कोई गम तो नही पर जरूर तेरी कमी है।।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

शायद लोगों की नजरो मे हमारी कोई कीमत ना हो..,,,,
लेकिन कोई तो होगा जो,
हमारा हाथ पकड़ कर खुद पर नाज़ करेगा,,,, 💔💔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सफर में मुश्किलें आऐ,
तो हिम्मत और बढ़ती है।

कोई अगर रास्ता रोके,
तो जुर्रत और बढ़ती है।

अगर बिकने पे आ जाओ,
तो घट जाते है दाम अक्सर;

ना बिकने का इरादा हो तो,
कीमत और बढ़ती है।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सब कुछ मिला सुकून की दौलत न मिली;
एक तुझको भूल जाने की मोहलत न मिली;
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर;
हमको तेरे ख्याल से कभी फुर्सत न मिली।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सब फूलों की जुदा कहानी है खामोशी भी तो प्यार की निशानी है ना कोई ज़ख्म है फिर भी ऐसा एहसास है यूँ महसूस होता है कोई आज भी दिल के पास है !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सभी नगमे साज़ मैं गाये नहीं जाते …
सभी लोग महफ़िल मैं बुलाये नहीं जाते …
कुछ पास रह कर भी याद नहीं आते …
कुछ दूर रह कर भी भुलाये नहीं जाते …

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सर झुकाने की आदत नहीं है,
आँसू बहाने की आदत नहीं है,
हम खो गए तो पछताओगे बहुत,
क्युकी हमारी लौट के आने की आदत नहीं है!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सिमटे हुए जज़्बों को बिखरने नहीं देता
*___ये आस का लम्हा हमें मरने नहीं देता*

क़िस्मत मिरी रातों की सँवरने नहीं देता
*___वो चाँद को इस घर में उतरने नहीं देता*

करती है सहर ज़र्द गुलाबों की तिजारत
*___मेयार-ए-हुनर ज़ख़्म को भरने नहीं देता*

आँखों के दरीचे भी 'दर्श' उस ने किए बंद
*_______सूरज को समुंदर में उतरने नहीं देता*

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सियासत से अलग कोई कहानी हो नहीं सकती,
फ़रेबों से ज़ुदा अब ज़िन्दगानी हो नहीं सकती।
कहाँ जाकर तलाशें हम सुकूँ अपने लिए, यारो,
यहाँ पर कोई भी रुत अब सुहानी हो नहीं सकती।
हमारी सोच पर क़ब्ज़ा किया है बागवानों ने,
ग़ुलामी की इत्ती अच्छी निशानी हो नहीं सकती।
जिन्हें उम्मीद है अपने वतन से हर सहारे की ,
तसल्ली से बड़ी अब बदज़ुबानी हो नहीं सकती।
कभी आई मेरे दिल में मग़र वापस नहीं निकली,
कभी वो चाहतें अपनी पुरानी हो नहीं सकती।
ग़रीबों के दिलों का दर्द लिखता चाहता हूँ पर,
किराये की क़लम से वो बयानी हो नहीं सकती।
हमारी बेटियां जाकर कहीं फिर लौट आएँ घर,
ज़माने की कभी ऐसी रवानी हो नहीं सकती।
यहाँ इंसान हो ख़ुश और औरों को भी दे खुशियाँ,
मगर दुनिया इधर इतनी सायानी हो नहीं सकती।
तेरी ख़ुशबू तेरी सूरत से कब परहेज 'मुफ़लिस' को
मग़र अब हाय पहले सी जवानी हो नहीं सकती।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सुकून अपने दिल का मैने खो दिया,
खुद को तन्हाई के समुंदर मे डुबो दिया.
जो था मेरे कभी मुस्कुराने की वजह,
आज उसकी कमी ने मेरी पलको को भिगो दिया...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सूरज नहीं डूबा जरा सी शाम होने दो, मैं खुद लौट जाऊंगा मुझे नाकाम तो होने दो, मुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है....


जमाना मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

सोचा था इस कदर उनको भूल जाएँगे,
देखकर भी अनदेखा कर जाएँगे,
पर जब जब सामने आया उनका चेहरा,
सोचा एस बार देखले, अगली बार भूल जाएँगे……

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हकीकत जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले,
ये सोच लेना भूलने से पहले,
बहुत रोई हैं ये आँखें मुस्कुराने से पहले

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हम खुदा तुम को बना लेंगे तुम आओ तो सही
*****************************

तुमको हम दिल में बसा लेंगे,तुम आओ तो सही
सारी दुनिया से छुपा लेंगे, तुम आओ तो सही

एक वादा करो अब हमसे ना बिछड़ोगे कभी
नाज़ हम सारे उठा लेंगे, तुम आओ तो सही

बेवफा भी हो, सितमगर भी, जफा पेशा भी
हम ख़ुदा तुमको बन लेंगे, तुम आओ तो सही

एक तिल्खवतभी मिट जाएगी रफ्ता-रफ्ता
जिस तरह होगा माना लेंगे, तुम आओ तो सही.

राह तारीख है और दूर है मंजिल लेकिन
दर्द की शम्में जला लेंगे, तुम आओ तो सही.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हम तो बदनसीब लोग है...

हमारे हाथो में जख्म पहले लिखे जाते है.

नसीब बाद में....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हम तो बिछडे थे तुमको अपना अहसास दिलाने के लिए,

मगर तुमने तो मेरे बिना जीना ही सिख लिया...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हम तो यु ही बेखुदी में कह दिए,
की हमें कोई याद नहीं करते,
जिसका हो आप जैसा प्यारा दोस्त,
वो कभी खुदा से भी फरियाद नहीं करते.

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हम रूठे तो किसके भरोसे,
कौन आएगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है, तरस आ भी जाए आपको..
पर दिल कहाँ से लाये.. आप से रूठ जाने के लिए

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमसे "मुँह" फेर कर जाने की "ज़रूरत" क्या थी
इस तरह "आंख" हमसे चुराने की "ज़रूरत" क्या थी
"हुक़्म" देते तो मैं खुद ही "जल" जाता हुज़ूर
मेरी "तस्वीर" को "जलाने" की ज़रूरत क्या थी.....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमसे पूछो क्या होता है पल-पल बिताना बहुत मुश्किल होता है दिल को समझाना यार जिंदगी तो बीत जाएंगी बस मुश्किल होता है कुछ लोगों को भूल पाना !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है....
हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है....

अभी ज़िन्दा है #माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा ....
मैं जब घर से निकलता हूँ #दुआ भी साथ चलती है।....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमारे दर्द में, ग़म में फटकने भी नहीं आये,
वो मितरों कह के हाथों को झटकने भी नहीं आये !
कहॉं तो कह रहे थे मुझको फॉंसी पर चढा देना,
मगर जब वक्त आया तो लटकने भी नहीं आये !

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमारे वास्ते सबकी दुआ बेकार जाती है
कहीं काग़ज़ की कश्ती भी नदी के पार जाती है |
ज़रूरत आदमी को रोज़ दिखलाती है दरवाज़ा
ख़ुशी से किसकी ख़ुद्दारी यहाँ बाज़ार जाती है |
समंदर जीत लेता है लड़ाई झूठ कह कर भी
नदी सच बोलती रहती है फिर भी हार.जाती है |
हुनर ऐसा लगाती है सियासत ज़ख़्म सिलने में
सुई की है ज़रूरत पर वहाँ तलवार जाती है |
वहाँ जाने की ख़ातिर सिर्फ़ कंधे चार मिलते हैं
न रुतबा ही वहाँ जाता न जय- जयकार जाती है |

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमारे हाथों में इक शक़्ल चाँद जैसी थी
तुम्हें ये कैसे बताएं वो रात कैसी थी..

महक रहे थे मिरे होंठ उसकी ख़ुश्बू से
अजीब आग थी बिलकुल गुलाब जैसी थी...

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हमे मुस्कान आपकी यादो से
::: मिलती हैं :::
दिल को राहत आपकी बातों से
::: मिलती हैं :::
बन्द मत करना ये दोस्ती का
::: सिलसिला :::
दिल की धड़कन आपकी दोस्ती से
::: चलती हैं :::

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हर एक बात पे कहते हो तुम कि तू क्या है

तुम्हीं कहो कि ये अंदाज़-ए-गुफ़्तुगू क्या है

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हर वक़्त तेरे आने की आस रहती है!
हर पल तुझसे मिलने की प्यास रहती है!
सब कुछ है यहाँ बस तू नही!
इसलिए शायद ये जिंदगी उदास रहती है!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हर शाखे आरजू पे मुहब्बत का फूल है
देखें वफाऐ हुस्न से अब क्या नजूल है

जब इश्क के सलीब पर दे डाली जिन्दगी
तब फिक्रे खैरे जान तो रखना फिजूल है

गुन्चाऐ इश्क शोख मुहब्बत के आब से
नफरत का खार देना कहां का असूल है

तूफाने हुस्न से है सफीनाऐ इश्क गर्क
साहिल का ऐतबार क्या किश्ती की भूल है
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हस्ती मिट जाती है आशियाँ बनाने मे,
बहुत मुस्किल होती है अपनो को समझाने मे,
एक पल मे किसी को भुला ना देना,
ज़िंदगी लग जाती है किसी को अपना बनाने मे..💔💔🌹🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हाथ चिड़िया ने धो लिया घर से
और उम्मीद क्या थी बन्दर से
मुझको ताक़ीद है मिली घर से
पैर बाहर न निकलें चादर से
कॉम्पटीशन है और रिजर्वेशन
मोर पीछे रहेगा तीतर से
मैंने बेपर्दा चाँद देख लिया
ग़म है अंदर सुकूँ है बाहर से
क्या ग़ज़ब के थे वो सुख़नवर भी
पोथियाँ लिख दीं ढाई आखर से
यूँ ही गौहर नहीं मिलेंगे मियाँ
जूझना सीख लो समुन्दर से
दर्द की इन्तिहाँ से गुजरा और
बन गया देवता, मैं पत्थर से
अपने हाथों पे खुद भरोसा है
"कोई शिकवा नहीं मुक़द्दर से"
तेरा किस्सा लिखा है हर जानिब
मुझको अंदर से पढ़ कि बाहर से
चन्द अश्आर उभर के आते है
जब भी उठता है दर्द अन्दर से
दिल के ज़ख्मों पे आज भी मरहम
उसकी यादें लगाऐं खंजर से

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हाथो की लकीरों के फरेब में मत आना,
💕💕
💕💕
ज्योतिषो की दूकान पर मुक्कदर नहीं बिकते ।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हो अगर माँ की गोद में तो
फ़रिश्ते कुछ़ नहीं लिखते

जो ममता रुठ जाए तो किनारे फिर नहीं दिखते

यतिमी साथ लाती है ज़माने भर के दुख़

सुना है माँ ज़िन्दा हो तो कांटे भी नहीं चुभते..

हिंदी शायरी लिखा हुआ

हौसले के तरकश में, कोशिश का वो तीर ज़िंदा रखो.. हार जाओ चाहे जिन्दगी मे सब कुछ, मगर फिर से जीतने की उम्मीद जिन्दा रखो!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ख़त्म कर दी थी जिंदगी की सारी खुशियाँ तुम पर,
कभी फुरसत मिले तो सोचना की मोहब्बत किसने की थी !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ख़्वाब देखूं, ख़्वाब-सी ताबीर हो सकती नही
*जो बदल जाये, मेरी तक़्दीर हो सकती नही*
*मेरी जानिब हों निगाहे, दिल मे कोई और हो
*इतनी लापरवा तेरी तस्वीर हो सकती नही*

​​​​​​​​

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ग़म में हँसने वालों को कभी रुलाया नहीं जाता लहरों से पानी को हटाया नहीं जाता होने वाले हो जाते हैं खुद ही दिल से जुदा किसी को जबर्दस्ती दिल में बसाया नहीं जाता !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ज़रा सी चोट को महसूस करके टूट जाते हैं !
सलामत आईने रहते हैं, चेहरे टूट जाते हैं !!

पनपते हैं यहाँ रिश्ते हिजाबों एहतियातों में,
बहुत बेबाक होते हैं वो रिश्ते टूट जाते हैं !!

नसीहत अब बुजुर्गों को यही देना मुनासिब है,
जियादा हों जो उम्मीदें तो बच्चे टूट जाते हैं !!

दिखाते ही नहीं जो मुद्दतों तिशनालबी अपनी, ,
सुबू के सामने आके वो प्यासे टूट जाते हैं !!

समंदर से मोहब्बत का यही एहसास सीखा है,
लहर आवाज़ देती है किनारे टूट जाते हैं !!

यही एक आखिरी सच है जो हर रिश्ते पे चस्पा है,
ज़रुरत के समय अक्सर भरोसे टूट जाते हैं

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ज़रा सी बात होती है तो.
तन्हा छोड़ जाते है,
"मोहब्बत कर के लोगो से.
संभाली क्यों नही जाती ...??

हिंदी शायरी लिखा हुआ

ज़िंदगी की कसौटी से
हर रिश्ता गुज़र गया,
कुछ निकले खरे सोने से,
कुछ का पानी उतर गया..!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

फ़िक्र नहीं हमें की तुम दिल तोड़ दो ..!
फ़िक्र है हमें की कहीं तुम्हें इश्क न हो जाये ..!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

​​ठुकरा के उसने मुझे कहा ​कि मुस्कुराओ; मैं हंस दिया सवाल उसकी ख़ुशी का था; मैंने खोया वो जो मेरा था ​ही नहीं; उसने खोया वो जो सिर्फ उसी का था।

हिंदी शायरी लिखा हुआ

⁠⁠⁠⁠⁠
"चाँद निकलेगा तो दुआ मांगेंगे;
अपने हिस्से में मुकदर का लिखा मांगेंगे;
हम तलबगार नहीं दुनिया और दौलत के;
हम रब से सिर्फ आपकी वफ़ा मांगेंगे!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

●▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬●

ना जाने क्यों कोसते हैं लोग बदसूरती को........

बर्बाद करने वाले चेहरे तो हसीन होते है..........

हिंदी शायरी लिखा हुआ

●▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬●

विरासत के दौलतमंद क्या जाने मेहनत का नशा...

जिंदगी वो नहीं, जो अपने पुरखो पे जी जाएँ...!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

☄💫☄💫☄💫☄💫☄

✍ _"जो दोस्त आगे बढ़कर_
_होटल के बिल का पेमेंट_
_करतें हैं,_
_वो इसलिए नहीं कि,_
_उनके पास खूब पैसा है;_

_बल्कि इसलिए कि……_

_*उन्हें पैसों से अधिक*_
_*अपने दोस्त पसंद हैं…!*_

✍ _"जो लोग हर काम में_
_आगे रहतें हैं, वो इसलिए_
_नहीं कि, वे बेवकूफ होते हैं;_

_बल्कि_
_इसलिए कि उन्हें……_

_*अपनी जिम्मेदारी का*_
_*अहसास होता है…!!*_

✍ _"जो लोग लड़ाई हो चुकने_
_बाद भी माफी माँग लेते_
_हैं,_
_वो इसलिए नहीं कि, वो_
_गलत थे;_

_बल्कि इसलिए कि...._

_*वो रिश्तों की परवाह करते है…!!*_

✍ _"जो लोग आपकी मदद_
_करने के लिए आगे आते_
_हैं, वो इसलिए नहीं कि,_
_आपका उन पर कोई कर्ज_
_बाकी है;_

_बल्कि इसलिए कि वे…_

_*आपको अपना मानते हैं।*_

✍ _"जो लोग आपको रोज_
_"मेसेज " अथवा_
_"पोस्ट"
_भेजते हैं, वो इसलिए नहीं_
_कि, वे फुरसतिया होतें हैं;_

_बल्कि इसलिए कि.._

_*उनमें हमेशा आपके*_
_*नज़दीक बनें रहने की*_
_*मोहब्बत होती है…!! *🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

♦🔶♦🔶♦🔶♦🔶♦

उनसे मिलने को जो सोचों अब वो ज़माना
नहीं,

घर भी कैसे जाऊं अब तो कोई बहाना नहीं,

मुझे याद रखना कहीं तुम भुला न देना,

माना के बरसों से तेरी गली मेंआना-जाना
नहीं।
🔷♦🔷♦🔷♦🔷♦🔷

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍....

तेरी किताब के हर्फ़े, समझ नहीं आते।
ऐ ज़िन्दगी तेरे फ़लसफ़े, समझ नहीं आते।।

कितने पन्नें हैं, किसको संभाल कर रखूँ।
और कौन से फाड़ दूँ सफ़हे, समझ नहीं आते।।

चौंकाया है ज़िन्दगी, यूँ हर मोड़ पर तुमने।
बाक़ी कितने हैं शगूफे, समझ नहीं आते।।

हम तो ग़म में भी, ठहाके लगाया करते थे।
अब आलम ये है, कि.. लतीफे समझ नहीं आते।।

तेरा शुकराना, जो हर नेमत से नवाज़ा मुझको।
पर जाने क्यों अब तेरे तोहफ़े, समझ नहीं आते🌱

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍जीवन का एक कड़वा सत्य...
लोग आपसे नहीं
आपकी
स्थिति से हाथ मिलाते हैं...!!!"

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍🏻✍🏻 *_मुँह पर कड़वा बोलने_*
*_वाले लोग कभी धोखा_*
*_नहीं देते…_*

*_डरना तो मीठा बोलने_*
*_वालों से चाहिए...,_*

*_जो…… दिल में नफरत_*
*_पालते हैं_*

*_और_*

*_वक़्त के साथ बदल_*
*_जाते हैं..…* ✍🏻✍🏻

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍🏻✍🏻 तुम्हारी "याद" का "दरिया" और "तन्हा" दिल की "कश्ती"...!!
✍🏻✍🏻 दूर "फ़लक़" तक "यादें", न कोई "ज़मीन" न कोई "बस्ती"...!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍🏻✍🏻संगदिलों की दुनिया है ये, यहाँ सुनता नहीं फ़रियाद कोई,
✍🏻✍🏻यहाँ हँसते है लोग तभी, जब होता है बरबाद कोई !!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✍🏼

🌹 अकेले हम ही
शामिल नहीं हैं इस जुर्म में जनाब,
नजरें जब भी मिली थी मुस्कराये तुम भी थे।🌹



✍🏼

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✨🌹तेरे साथ की कहा जरूरत है
हम तो तेरी आवाज से ही खुश हो जाते है
साथ उन्हे चाहिये जो अधुरे हो
हम तो तेरी आहट से ही पुरे हो जाते है...🌹✨

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✨🌹मोहब्बत तो वो हे जिसको
हर दुआ में माँगा जाए,
हमने तो उसे वहां जाकर भी माँगा था,
जहा लोग सिर्फ अपनी ख्वाहिशे
मांगते हे..!🌹✨

हिंदी शायरी लिखा हुआ

✪➦ सिमट कर रह गया मेरा 😔 प्यार कुछ ही ➪ लफ्जो मे दोस्तो....

जब उस 👰 पगली ने कहा ➠ मोहब्बत 💟 तो करती हूँ आपसे 😌 पर मेरी 😕 शादी किसी 👤 और के साथ होने वाली है..|•|

हिंदी शायरी लिखा हुआ

❤अधूरे से रहते मेरे लफ्ज़
तेरे ज़िक्र के बिना...!
मानो जैसे मेरी हर
शायरी की रूह तूम ही
हो... ❤

हिंदी शायरी लिखा हुआ

❤उसने पूछा मेरे से तुम जो प्यार करते हो उसकी हद बताओ....*
💕💕

💕💕
*हमने भी कह दिया*
*मै तेरी ख़ुशी के लिए तुझे भुला सकता हुँ*💙

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌸🌸✨✨🌸🌸

*हर रिश्ते में ........हुआ करते हैं*
*अहसास कुछ ख़ास...*

*कोई कह नहीं पाता है;*
*तो कोई समझ नहीं पाता !* 💔

🌸🌸✨✨🌸🌸

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌸🌸✨✨🌸🌸

रिश्तों की बगिया में एक रिश्ता
नीम के पेड़ जैसा भी रखना;

जो सीख भले ही कड़वी देता हो पर
तकलीफ में मरहम भी बनता है।✔


🌸🌸✨✨🌸🌸

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌹🌹सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,💦

🌹🌹हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर,
खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो।💦

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌹🌹🌹अपनी यादें...

अपनी यादें अपनी बातें लेकर जाना भूल गये;
जाने वाले जल्दी में मिलकर जाना भूल गये;

मुड़-मुड़ कर देखा था जाते वक़्त रास्ते में उन्होंने;
जैसे कुछ जरुरी था, जो वो हमें बताना भूल गये;

वक़्त-ए-रुखसत भी रो रहा था हमारी बेबसी पर;
उनके आंसू तो वहीं रह गये, वो बाहर ही आना भूल गये।
🌹🌹🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌹🌿🌹तिनका तिनका ज़रा ज़रा है,
रोशनी से जैसे भरा ।

हर दिल में अरमान होते तो है, बस कोई समझे ज़रा !!
🌹🌿🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌹💜
सभी इन्सान है,मगर सिर्फ फर्क इतना है,
कुछ जख्म भरते है कुछ जख्म देते !!
🌹💜
हमसफर सभी है,मगर फर्क सिर्फ इतना है,कुछ साथ चलते है कुछ छोड़ के चले जाते है!!
🌹💜
प्यार सभी करते है,मगर फर्क सिर्फ इतना है,कुछ जान देते है,कुछ जान लेते है !!
🌹💜
दोस्ती सभी करते है ,मगर फर्क सिर्फ इतना है,कुछ दोस्ती निभाते है,कुछ आजमाते है !!
🌹💜

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌾🍁 तेरी एक निगाह की बात है ....

मेरी जिंदगी का सवाल है...

मेरी शाम है, तेरी जुस्तजू .... मेरी सुबह, तेरा ख्याल है .....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌿 🌿
*___________________´*

*_दुआ करो कि मेरे अंदर से ये मोहब्बत घुट-घुट के मर_*
*_जाये,._*


*_कि आज रात बड़े सुकून से सोने का दिल कर रहा है !!_*

*```__________📝___!!!

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌿एक शब्द है (आँसू)
दिल में छुपा कर रखो
तुम्हारी आँखों से ना निकल जाए तो कहना,🌿

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌿एक शब्द है (ईश्वर)
इसे पुकार कर तो देखो
सब कुछ पा ना लो तो कहना🌿

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌿एक शब्द है (जुदाई)
इसे सह कर तो देखो
तुम टूट कर बिखर ना जाओ तो कहना,🌿

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🌿मैं जो सोता हूँ तो जाग उठती है क़िस्मत मेरी ,
रोज़ वो ख़्वाब में आते हैं गले मिलने !!🌿

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🍂बड़ी मुददत के बाद मिलने वाली थी कैद से आज़ादी;🍃​
​🍂पर किस्मत तो देखो, जब आज़ादी मिलने वाली थी;🍃​
​🍂तब तक पिंजरे से प्यार हो चुका था!🍃​

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🍂💎 *किसी को ये सोचकर साथ मत छोड़ना की उसके पास कुछ नहीं तुम्हे देने के लिए;*

*बस ये सोचकर साथ निभाने की उसके पास कुछ नहीं है तुम्हारे सिवा खोने के लिए!* 💎🍂

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🍂💎 *छाले पैरों के अक्सर पूछा करते है हमसे ये,*



*क्यूँ जाते हो उससे मिलने तुम जिसे तुम्हारी जरूरत नहीं...* 💎🍂

हिंदी शायरी लिखा हुआ

👉🏽अगर सच में किसी का साथ
ज़िन्दगी भर चाहते हो तो...!!
उसे कभी मत बताओ की तुम
उससे कितना प्यार करते हो...❤

हिंदी शायरी लिखा हुआ

👉💘लब्जों से नहीं,हम आँखों से,बात करते हैं
💘💘💘💘💘💘💘💘
, दिल से नहीं,हम दिल में उतर के, प्यार करते हैं..!💘👈

हिंदी शायरी लिखा हुआ

👌🏤
क्या खूब लिखा हे एक भाई ने दूसरे भाई के लिए!

"" बड़े अनमोल हे ये खून के रिश्ते
इनको तू बेकार न कर ,
मेरा हिस्सा भी तू ले ले मेरे भाई
घर के आँगन में दीवार ना कर🏤,👌""

हिंदी शायरी लिखा हुआ

👫Dost hazar nahi 💜sirf ek chahiye,💃
🌷dukh-sukh me de sath vo yar chahiye,🌷
💃hum kisi ko bhulate 💕nahi lekin
💝jo yad rakkhe hame💝 vo 👫yar chahiye??💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕 *बंध जाता हे जब किसी से रूह का बन्धन……*

*तो इजहार ए मुहब्बत को अल्फाजो की जरुरत नहीं होती*💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕बहुत खूबसूरत होते हैं वो पल....?
जिसमे दोस्त साथ होते है
लेकिन उससे भी खूबसूरत है
वो लम्हें जब दूर रहकर भी
वो हमें याद करते है ।
💖

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕यह कैसी लगन तुमने, 💕
💕💕मुझको लगा दी ...!!
सोचा था प्यास बुझेगी, 💝
💕💕तुमने और बढ़ा दी ...!!💕💝

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕💕आ जाओ कभी मेरी महफिल में तुम भी
समां बनकर..!!

सच में हर हकीकत बयां कर दूँगा तेरी
जुबां बनकर..!!💕💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕💕हम एक तरफा प्यार की कहानी में मरे हैं।


ये मोहब्बत ही है जो हम जवानी में मरे है।।💕💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💕💝💖💞💗तुझ से दूर रहकर .....मोहब्बत बढ़ती जा रही है💕💝💖💞💗
क्या कहूँ .....कैसे कहूँ ....ये दूरी तुझें और करीब ला रही है ........💖💞💗💕💝💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💖बेनाम रिश्ते का ये कैसा
एहसास है..
अजनबी है फिर भी न जाने क्यों
खास है.....!!!!!💖⚡☺

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💖💖अब हम कभी ना जागेंगे रातों को,उसकी यादों के सहारे।

बस हमने तो फ़ितरत बदलनी है,उसकी नज़रों की तरह।💖💖

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💖💖💖आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.💖💖💖

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💖💖💖न समझो के हमने आपको भुला रखा है
आप नही जानते के दिल में छुपा रखा है
देखते रहे तुम्हें उमर भर इन आंखों में
इसलिए नज़रों के सामने आइना लगा रखा है💖💖💖💖

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💘Dil me tumhare apni kami chood jayenge,💘
🌿Ankhome intezar ki lakir chood jayenge,🌿
💜Yaad rakhna dhundte rahoge hame,💜
👫Dosti ki aisi kahani 👬chood jayenge.🌿

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💘💘💘💘किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं !
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं !
गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या !
ज़माने वाले कोई खुदा तो नहीं ! 💘💘💘💘

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💙 Teri Ghaflaton Ko Khabar Kahan Mere Hal-e-Dil Py Nzar Kahan . . . !
<<<< >>>>
Tu Jafa Ki Had Mein Na Aa Saka,Main Wafa Ki Had Se Guzar Gya . . . .!....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💙🌹

मालूम सबको है कि जिन्दगी बेहाल ,

लोग फिर भी पूछते है
और सूनाओ क्या हाल है !!

________

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💙🌹
मै बीमार ऐ मोहब्बत हूँ मुझे क्या गरज हकीमो से ,

अगर मेरी सिफा चाहो तो मेरा महबूब ले आओ !!

________🎻

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💚💚💚💚💚💚💚

*💚एक बेहतरीन सोच💚*

*हर एक की सुनो👂🏻*
*ओर हर एक से सीखो*
*क्योंकि हर कोई,*
*सब कुछ नही जानता*
*लेकिन हर एक*
*कुछ ना कुछ ज़रुर जानता हैं!*

*स्वभाव रखना है तो उस 🔥दीपक की तरह रखिये, जो बादशाह के महल में भी उतनी ही रोशनी देता है, जितनी की किसी गरीब की झोपड़ी ⛺में….*💚

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞 *जो फ़ना हो जाऊं तेरी चाहत में तो ग़ुरूर ना करना,*

*ये असर नहीं तेरे इश्क़ का, मेरी दीवानगी का हुनर है !*! 🌹

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞... अजीब होती हैं मोहब्बत की राहें भी ...
रास्ता कोई बदलता है ..,
मंज़िल किसी और की खो जाती है .......💗

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞किसी से करो प्यार इतना,

*कि किसी ओर से मिलने की गुंजाइश ना रहे*

वो मुस्कुरा देँ आपको देख कर एक बार

*तो जिंदगी से फिर कोई ख्वाहिश न रहे*💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞🎶💞🎶💞💞🎶💞

जिंदगी सुंदर है पर मुझे.
जीना नहीं आता,
हर चीज में नशा है पर मुझे.
पीना नहीं आता,
सब मेरे बिना जी सकते हैं,
र्सिफ मुझे अपनों के बिना....
जीना नहीं आता....

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞🎶💞💞🎶💞

जिंदगी सुंदर है पर मुझे.
जीना नहीं आता,
हर चीज में नशा है पर मुझे.
पीना नहीं आता,
सब मेरे बिना जी सकते हैं,
र्सिफ मुझे अपनों के बिना....
जीना नहीं आता....

💞🎶💞🎶💞💞🎶💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞
इतना टूटा हूँ के
छूने से बिखर जाऊँगा

अब अगर और दुआ दोगे
तो मर जाउंगा😔

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞
क्यों किसी से इतना प्यार हो जाता है! एक पल का इंतज़ार भी दुश्वार हो जाता है! लगने लगते है अपने भी पराये! और एक अजनबी पर ऐतबार हो जाता है!
💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞
हद-ए-शहर से निकली तो गाँव-गाँव चली
कुछ यादे मेरे संग पाँव-पाँव चली
सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ
वो जिंदगी ही क्या जो छाँव-छाँव चली।
💞💐💞💐💞💐💞💐💞💐💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💕दर्द सबके एक है मगर हौंसले सबके अलग अलग है,

कोई बिखर के मुस्कुराया तो कोई मुस्कुरा के बिखर गया !
💕💕

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💞
रूबरू मिले तो दिल पे काबू कैसे होगा...

बेहतर है तुझको तस्वीर में देख लें हम.
💞💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

💞💞💞💞तेरे होंठो को छू-छू कर गुजर जाऊं मैं...
काश कही हुई तेरी, हर बात बन जाऊं मैं...💞💞💞💞💞

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🔷🔥🔷🔥🔷🔥🔷🔥

उजालों से रौशन
आसमां देख रहा था..!!
.
.
.
.
एक दिल अँधेरे में बैठा
सारा जहां देख रहा था....!!!!

🔷🔥🔷🔥🔷🔥🔷🔥🔷

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷
मोहब्बत की जंजीर से डर लगता है कुछ अपने तकदीर से डर लगता है जो मुझे तुझसे जुदा करती है मुझे उस हाथ की लकीर से डर लगता है !!
🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷🔷

हिंदी शायरी लिखा हुआ

😭💔👈झुका लेता हूँ अपना सर हर मज़हब के आगे...!!!


पता नहीं किस दुआ में तुझे मेरा होना लिखा हो...!!!😭💔👈

हिंदी शायरी लिखा हुआ

🤔🤔🤔🤔🤔🤔👌🏻
*"​कमियाँ तो मुझमें भी बहुत है*
*​पर मैं बेईमान नहीं।​*
*मैं सबको अपना मानता हूँ,​*
*सोचता हूँ फायदा या नुकसान नहीं।​*
*एक शौक है शान से जीने का,​*
*कोई और मुझमें गुमान नहीं।​*
*छोड़ दूँ बुरे वक़्त में अपनों का साथ,​*
*​वैसा तो मैं इंसान नहीं।​*

Comments

Popular posts from this blog

[शायरी 2020 ] 2020 की शायरी

!! उठा के ऐड़ियां चलने से कद नही बढ़ता !!

!! मेरे रकीब से कह दो कि अपनी हद मे रहे !!2020 की शायरी [शायरी 2020]" _शेर, छलांग मारने के लिए एक_ _कदम पीछे लेता है।_
_इसी तरह जब जिंदगी आपको पीछे धकेलती है।_
_तो कमर कस लें, की अब जिंदगी में एक ऊंची छलांग लेने का वक़्त है।_2020 की शायरी [शायरी 2020]" कोई रिश्ता नया या पुराना नहीं होता,
जिन्दगी का हर पल सुहाना कितना होता,
जुदा होना तो किस्मत की बात है..
पर जुदाई का मतलब भूलाना नहीं होता2020 की शायरी [शायरी 2020]" मेरी खामोशी देखकर मुझसे ये जमाना बोला कि,
तेरी संजीदगी बताती है तुझे हँसने का शोक था कभी..."2020 की शायरी [शायरी 2020]" लिबास कितना भी क़िमती हो या सस्ता
घटिया किरदार को छुपा नहीं सकता..."2020 की शायरी [शायरी 2020]" ज़िन्दगी एक चाहत का सिलसिला है,
कोई किसी से मिल जाता है तो,
कोई किसी से बिछड़ जाता है,
जिसे हम मांगते है अपनी दुआ में,
वो किसी को बिना मांगे मिल जाता है… "2020 की शायरी [शायरी 2020]""कभी किसी को छला नहीं,
इसीलिए तो मैं चला नहीं""👈2020 की शायरी [शायरी 2020]".* Tumhari Yaad…

[1000] Best Shayari in Hindi

!! Kuch khuwab thay meri ankhon main,

Tujhay pa lenay ki chahat thi,

Chand lafzon main he kehta hoon,

'Mujhay tumse bohot mohbat thi'

Par tu kiya janay chahat ko,

Tujhay ho jati to poochta main,

Dil jab jab toot k rota hai,

Kiya dard tumhain b hota hai?

Ye khuwab haqeeqat ho jaye,

Kisi apnay jesay sangdil se,

TUJHAY KAASH MOHBAT HO JAYE !!Shayari in Hindi" Meri Dosti Ki Tum Kia Azmaish Kar Sako Ge

Jan Se Ziada Kia Farmaish Kar Sako ge

MEri Dosti Barsh k Qtro ki Tarah Hai

Kia Kabhi In Qatroo ki PYMAISH kar Sako Ge "Shayari in Hindi" Rishtay "
or
" Mosam "
Dono ek jaise hotay hain...!
Kabhi hadh se zaida achy..
,kabhi bardasht se zyada bure...!
Bas farq itna hai k ...
Mosam jism ko takleef deta hai
or
rishtay Rooh ko...!Shayari in Hindi" YAI DIN !!!!!

Andheri raatein
Andhere din
Yara tere bin !!
Kis tarah guzre gi zindagi
Shayad kise din
Ho takrao hamara tumhara
To mei bhi tum se poucho
Kahan gai wo waday
Kahan gai wo qasmein
Jo tum subah shaam kerte th…